• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लद्दाख में जवानों से बोले सेना प्रमुख नरवणे, पूरा देश हमारी तरफ देख रहा है

|

नई दिल्ली। चीन के साथ चल रहे तनाव के बीच इंडियन आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने जवानों से कहा है कि ये समय बहुत अहम है क्योंकि पूरा देश आज सेना की ओर देख रहा है। जवानों से बात करते हुए उन्होंने कहा, जोश और धैर्य दोनों की जरूरत है। जोश के साथ-साथ आपको धीरज और संयम से भी काम लेना है। नरणवे ने उन जवानों को भी याद किया जो लद्दाख सेक्टर में अलग-अलग ऑपरेशन में जान का बलिदान दे चुके हैं।

चीन के ‘जीन’ में है विस्तारवाद , उसकी जमीन हड़पो नीति से भारत समेत दुनिया के 23 देश परेशान

    India China Tension: Army Chief Naravane बोले- LAC पर हालात नाजुक, सेना तैयार | वनइंडिया हिंदी
    दो दिन के दौरे पर लद्दाख में सेना प्रमुख

    दो दिन के दौरे पर लद्दाख में सेना प्रमुख

    जनरल नरवणे ने दो दिन का लद्दाख दौरा किया है। वह गुरुवार को लद्दाख पहुंचे। नरवणे सीमा पर चीन के साथ तनाव के बीच ऑपरेशन की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए दो दिन के लद्दाख दौरा किया है। उन्‍होंने मीडिया से बात करते हुए शुक्रवार को कहा कि एलएसी पर स्थिति नाजुक और गंभीर है लेकिन हम लगातार इसके बारे में सोच विचार कर रहे हैं। हमारी सुरक्षा के लिए हमने कुछ एहतियाती कदम उठाए हैं। मुझे उम्मीद है कि हमने जो तैनाती की है उससे हम अपनी सुरक्षा कायम रखेंगे।

    बातचीत से विवाद सुलझाने का भरोसा

    बातचीत से विवाद सुलझाने का भरोसा

    आर्मी चीफ ने कहा, मैंने कई इलाकों का दौरा किया। अफसरों से बात कर तैयारियों का जायजा भी लिया। मैं फिर कहूंगा कि हमारे अफसर और जवान दुनिया में सबसे बेहतर हैं। वे न सिर्फ आर्मी का बल्कि देश गौरव भी बढ़ाएंगे। जवानों की सेहत अच्छी है और उनका मनोबल भी ऊंचा है। मुझे विश्वास है कि वो सीमाओं की रक्षा करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं। नरवणे ने बताया कि पिछले 2-3 महीनों से हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं, लेकिन हम चीन के साथ मिलिट्री और डिप्लोमेटिक लेवल पर लगातार बातचीत कर रहे हैं। यह प्रोसेस आगे भी जारी रहेगा। हमें भरोसा है कि बातचीत से विवाद सुलझा लेंगे। यह तय करेंगे कि एलएसी पर यथास्थिति बनी रहे।

     भारत-चीन के बीच लगातार तनाव

    भारत-चीन के बीच लगातार तनाव

    भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर कई महीनों से तनाव बना हुआ है। चीन की ओर से भारत के कई हिस्सों पर जबरन कब्जे की कोशिशों को लेकर ये तनाव है। इसी के चलते 15 जून को गलवान में बहुत भयनाक भिड़ंत चीन और भारत के सैनिकों के बीच हो गई थी। जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। भारत और चीन दोनों तरफ से ही लगातार कहा जा रहा है कि बातचीत चल रही है और तमाम मसलों का हल बैठकों के जरिए निकाला जा रहा है। वहीं दोनों ही देशों की ओर से ये भी लगातार स्वीकार किया जा रहा है कि सब ठीक नहीं है और हालात तनावपूर्ण हैं। 29/30 अगस्त की रात को पेगोंग झील के दक्षिणी तट पर चीन और भारत की सेना के बीच फिर से झड़प हुई, जिसके बाद वहां स्थिति में तनाव काफी ज्यादा बढ़ा हुआ है।

    ये भी पढ़ें- सेना प्रमुख जनरल नरवणे ने चीन बॉर्डर पर दिया बड़ा बयान, कहा-LAC की स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Army chief mm naravane to jawans on forward posts on China border countrys eyes are on us
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X