• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

वर्क फ्रॉम होगा अब दुनिया में काम करने का नया तरीका: रविशंकर प्रसाद

|

नई दिल्‍ली। दुनिया भर में Coronavirus के प्रकोप के चलते कई कंपनियों में लोग घर से ही काम कर रहे हैं, ताकि आवाजाही कम हो और वह संक्रमण से बचे रहें। साथ ही कंपनियां भी लोगों को घर से काम करने के लिए प्रोत्साहित कर रही हैं। इस बीच केंद्रीय कानून एवं आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कोरोना वायरस का संकट खत्म होने के बाद की दुनिया में वर्क फ्रॉम होम के नये मानदंड स्थापित हो सकते हैं।

    COVID-19: Ravi Shankar Prasad ने कहा, Work from Home हो सकता है काम का नया तरीका | वनइंडिया हिंदी

    कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

    बोले रविशंकर प्रसाद- वर्क फ्रॉम होगा अब दुनिया में काम करने का नया तरीका

    अंग्रेजी अखबार द इंडियन एक्सप्रेस को दिये एक इंटरव्यू में एक सवाल के जवाब में उन्होंने यह बात कही। प्रसाद से पूछा गया कि डिजिटल इकोसिस्टम अर्थव्यवस्था में इस प्रमुख बदलाव को संभाल सकता है, यह सुनिश्चित करने के लिए आपने क्या किया? जवाब में प्रसाद ने कहा, 'सबसे बड़ी चुनौती यही थी कि भारत की महान आईटी सफलता किसी भी तरह से बाधित ना हो। सबसे पहले मैंने उदार तरीके से घर से काम करने की अनुमति दी, जिसमें कई नियमों को स्थगित करने की जरूरत थी। मैं देख पा रहा हूं कि कोविड-19 के बाद की दुनिया में वर्क फ्रॉम होम नया मानदंड बनेगा। मैंने अपने विभाग से कहा है कि वह एक मॉडल पर काम करें ताकि भारत में वर्क फ्रॉम होम की व्यवस्था आर्थिक और लाभदायक हो।'

    Lockdown के चलते घर में अकेली थी नेत्रहीन बैंक अधिकारी, बालकनी लांघकर आए दरिंदें ने किया रेप

    12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

    यह पूछे जाने पर कि आगे उन्हें क्या मुश्किलें दिख रही हैं, प्रसाद ने कहा कि 'जब दुनिया लॉकडाउन करने या न करने के सवाल के बीच खड़ी थी तो पीएम मोदी ने एक बड़ा जोखिम उठाया और मुझे अपने नेता पर बहुत गर्व है। सिविल सेवा ने भी उत्कृष्ठ कार्य किया। लोगों के आइसोलेशन का प्रबंधन कर रही है। पीड़ितों के संपर्क का पता लगा रही है। इतने सारे लोगों को खिला रही है। दूसरी बात यह है कि वह चाहे व्यापार समुदाय हो या व्यापारी, सभी ने महसूस किया है कि पीएम ने जो रास्ता अख्तियार किया है उसमें जीवन को बचाना सबसे महत्वपूर्ण है। मैं कभी नहीं कह सकता कि मुश्किलें नहीं आएंगी, लेकिन अवसर भी होंगे। उदाहरण के लिए, भारत इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण के लिए एक बड़ा केंद्र है। मैं बहुत उत्सुक हूं कि पीएम के प्रोत्साहन से हम कोविड-19 के बाद के दुनिया में बड़े मैन्यूफैक्चरर बन जाएंगे।'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    After Coronavirus, Work from home may become new norm: Ravi Shankar Prasad.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X