परमीश वर्मा को गोली मारने वाले गैंगस्टर के दो और गुर्गे गिरफ्तार

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। पंजाबी गायक परमीश वर्मा पर गोलियां दाग कर कातिलाना हमला करने के आरोपी दिलप्रीत ढाहन गैंग के खिलाफ चलाए गये पंजाब पुलिस के अभियान के तहत हिमाचल में इस गैंग के गुर्गे हरविन्दर सिंह की गिरफ्तारी के बाद हिमाचल से ही दो और लोगों को पंजाब पुलिस ने हिरासत में लिया है। दो लोगों को सोलन जिला के बद्दी बरोटीवाला इलाके के माखनू माजरा व मानपुरा से हिरासत में लिया गया है जिससे अब साफ हो गया है कि यह गैंग पंजाब में वारदात करने के बाद हिमाचल में पनाह ले लेती थी। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक परमीश वर्मा पर कातिलाना हमला करने वाली दिलप्रीत गैंग के तार हिमाचल के बद्दी से जुड़े हुये थे। यही वजह है कि एक गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने अब दो ओर लोगों को हिरासत में लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

नेटवर्क के जरिए करता रहा है अवैध वसूली

नेटवर्क के जरिए करता रहा है अवैध वसूली

बताया जा रहा है कि यह गैंग हिमाचल में अपने नेटवर्क के सहारे ही अवैध वसूली करता रहा है। पंजाब पुलिस ने माखनू माजरा से जिस युवक को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया गया है। उस पर इस गैंग को लोगों के लिए हिमाचल से लोगों का डाटा व फोन नंबर पहुंचाने का आरोप है। वहीं एक बिजनेस मैन को भी हिरासत में लिया गया है। उससे भी कड़ी पूछताछ जारी है। दरअसल, पुलिस को सूचना मिली है कि हिमाचल के इसी उद्योगपति ने पिछले दिनों पंजाब में दिलप्रीत गैंग को फिरौती की बड़ी रकम दी थी।

पोस्ट कर दोनों राज्यों की पुलिस को धमकाया, नाजायज लोगों को ना करें गिरफ्तार

पोस्ट कर दोनों राज्यों की पुलिस को धमकाया, नाजायज लोगों को ना करें गिरफ्तार

बता दें कि सोमवार को हिमाचल में हुई गिरफ्तारी के बाद गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह ढाहा ने अपनी एक फेसबुक पोस्ट के सहारे दोनों प्रदेशों की पुलिस को धमकाया था। सिंगर परमीश वर्मा को गोली मारने के बाद फेसबुक पर जिम्मेदारी लेने वाले गैंगस्टर दिलप्रीत सिंह ढाहा ने पोस्ट में वाहे गुरू जी की खालसा वाहेगुरू की फतेह लिखते हुए लिखा है कि पुलिस किसी नाजायज शख्स को ना पकड़े। गायक परमीश वर्मा पर हमले में हम 4 शामिल थे। उनका इशारा हिमाचल में गिरफ्तार किये गए हरविन्दर सिंह की ओर है।

 हमले को धर्म से ना जोड़ने की दी हिदायत

हमले को धर्म से ना जोड़ने की दी हिदायत

दिलप्रीत ने ने अपनी पोस्ट में कहा है कि इस हमले को किसी धर्म से ना जोड़ा जाए। हमारी किसी धर्म से कोई दुश्मनी नहीं है। इसके साथ ही गैंगस्टर ने लिखा है कि कुछ फेसबुक विद्वान बहुत उतावले हो रहे हैं मिलने के लिए। वे वीडियो डाल कर अपशब्द भी बोल रहे हैं। दिलप्रीत ने लिखा गलत न लिखें। फिर न कहना नाजायज बंदा मार दिया। रही बात मिलने की जल्दी मिलेंगे। यह तो 50 गोलियों का ट्रेलर था जब मारना हुआ तब 500 गोलियां मार कर जाएंगे। उसने आगे लिखा है कि इस काम में पुलिस किसी को नाजायज तंग न करे। इस काम में हम चार व्यक्ति आकाश महाराष्ट्र, हरिन्दर सिंह महाराष्ट्र, सुखप्रीत सिंह बूढ़ा शामिल थे और बाकी इसका कारण क्या था यह परमीश मीडिया में सामने आ कर बताएगा।

ये भी पढ़ें-रविवार को घर से निकली छात्रा का गोमती नदी में इस हाल में मिला शव

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
shimla permish Verma attacker dilpreet Singh dahaan's two gang member arrested

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.