चुनाव 2017: भाजपा का हिसाब मांगे हिमाचल अभियान शुरू

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। चुनावी मोड में आई हिमाचल भाजपा ने प्रदेश सरकार के खिलाफ हिसाब मांगे हिमाचल अभियान की शुरुआत की। बीस सितंबर तक चलने वाले इस अभियान में केन्द्रीय नेता हिमाचल आकर केन्द्र सरकार की ओर से प्रदेश को दी जा रही आर्थिक मदद को लेकर प्रदेश के वित्तीय कुप्रबंधन का कच्चा चिठ्ठा खोलेंगे। इस कड़ी में आज शिमला में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने हिमाचल सरकार व सीएम वीरभद्र सिंह को जमकर कोसा। संबित पात्रा ने पत्रकार सम्मेलन में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को भी खूब खरी खोटी सुनाई व कहा कि देश उनकी बातों को कोई भी गंभीरता से नहीं लेता चाहे वह देश की संसद में बोलें या देश के बाहर। उन्होंने कहा कि बर्कले यूनिवर्सिटी में राहुल गांधी का भाषण झूठ से सरोबार था।

Read Also: सीएम वीरभद्र सिंह ने छेड़े बगावती सुर, टूट की कगार पर हिमाचल कांग्रेस

हिमाचल सरकार की कार्यशैली पर उठाए सवाल

हिमाचल सरकार की कार्यशैली पर उठाए सवाल

संबित पात्रा ने हिमाचल सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुये भाजपा प्रवक्ता ने कोटखाई प्रकरण, भ्रष्टाचार, सीएम वीरभद्र सिंह की सेब की आय, वन माफिया, खनन माफिया, शराब माफिया, ड्रग्स माफिया आदि मामले उठाकर सीएम वीरभद्र सिंह से इनका जवाब मांगा। उन्होंने कहा कि हिमाचल को इन माफियाओं से बचाना है और इसका खोया हुआ गौरव लौटाना है। उन्होंने कहा कि जिस सरकार में आठ पुलिस अधिकारी एक कत्ल के मामले में गिरफ्तार हो रहे हों, वहां क्या हालात होंगे। उन्होंने कहा कि कोटखाई मामले से हिमाचल शर्मसार हुआ है। रक्षक अब भक्षक बन गये हैं। यही नहीं कस्टोडियल डैथ मामले में 8 पुलिस कर्मचारी गिरफ्तार हुए हैं। उनका कहना था कि जिन पर रक्षा की जिम्मेदारी थी, वे ही भक्षक बन गए और सच को छिपाने के आरोप में ही ये गिरफ्तार हुए हैं। उन्होंने कहा कि जिस प्रदेश का आईजी स्तर का अधिकारी सच छिपाता है, यह कोई साधारण बात नहीं है। उन्होंने कहा कि बड़े षड्यंत्र को छिपाने का प्रयास हो रहा है। उन्होंने कहा कि सीएम की फेसबुक आईडी से पहले कुछ फोटो अपलोड होते हैं और फिर 45 मिनट बाद हटाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि आज कोटखाई की स्कूली छात्रा की रूह कांग्रेस सरकार से हिसाब मांग रही है।

संबित पात्रा ने वीरभद्र पर बोला हमला

संबित पात्रा ने वीरभद्र पर बोला हमला

भाजपा प्रवक्ता पात्रा ने सीएम वीरभद्र सिंह के कथित भ्रष्टाचार का मामला भी उठाया। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार के कार्यकाल में वीरभद्र सिंह से पहले स्टील मंत्रालय छीना गया और फिर इसके बाद एमएसई मंत्रालय सौंपा और फिर हिमाचल भेज दिया। उन्होंने कहा कि दिसंबर 2012 में वीरभद्र सिंह सीएम बने। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति यूपीए सरकार में भ्रष्टाचार का दोषी था और वहां उनसे मंत्रालय छिने गए, वे हिमाचल में कैसे साफ हो गए। उन्होंने कहा कि यहां पर भी कहीं कोई डायरी तो नहीं बन रही। उन्होंने वीरभद्र सिंह की सेब से आय को लेकर सवाल उठाए और कहा कि आज बेरोजगार पूछते हैं कि वह कौन सा पेड़ है, जहां सोने का सेब लगता है। उन्होंने कहा कि एलआईसी एजेंट आंनद चौहान से एलआईसी कार्रवाई गई और वह आज जेल में है और वीरभद्र सिंह जेल के बाहर बेल पर हैं। उन्होंने कहा कि सेब को ढोने का खेल तो ऐसा है जैसा बिहार के लालू प्रसाद यादव का चारा घोटाले का था।

भाजपा ने मोबाइल नंबर किया जारी

भाजपा ने मोबाइल नंबर किया जारी

हिसाब मांगे हिमाचल अभियान के साथ ही भाजपा ने मोबाइल फोन नंबर 7574068068 शुरू किया है। नंबर पर मिस्ड कॉल देने वाले को कॉल बैक आएगी, जिससे वे सरकार के कुशासन से संबंधित अपनी समस्या दर्ज करवा सकेगा। विजन डॉक्यूमेंट के लिए लोगों से सुझाव लिए जाएंगे।अभियान के तहत फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यू ट्यूब जैसे सोशल मीडिया माध्यमों का भी इस्तेमाल होगा। जीपीएस से लैस 68 परिवर्तन रथों को भी अभियान से जोड़ा गया है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मशताब्दी वर्ष के अंतिम दिन 25 सितंबर को हर मंडल पर कार्यक्रम आयोजित होगा। 2 अक्तूबर को महात्मा गांधी जयंती को भाजपा स्वच्छता दिवस के रूप में मना रही है। 15 सितंबर को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी शिमला आ सकती हैं। ईरानी कोटखाई प्रकरण पर प्रदेश सरकार को घेर सकती हैं। हालांकि, भाजपा आधिकारिक तौर पर उनके आने की पुष्टि नहीं कर रही है, लेकिन पार्टी की पहली प्राथमिकता स्मृति हैं। अगर वे नहीं आती हैं तो मीनाक्षी लेखी आ सकती हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP started Hisab Mange Himachal campaign.
Please Wait while comments are loading...