आज कुछ लोग भ्रष्टाचार के पक्ष में बोलने की हिम्मत कर रहे: पीएम मोदी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय जनसंघ और बाद में भाजपा के अहम नेता रहे केदारनाथ साहनी के जीवन पर लिखी गई किताब केदारनाथ साहनी स्मृतिग्रंथ के विमोचन के अवसर पर बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने जमकर विपक्ष पर निशाना साधा है।

modi

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज देश का दुर्भाग्य है कि सार्वजानिक जीवन में लोग करप्शन के पक्ष में भाषण करने की हिम्मत जुटा पा रहे हैं उन्होंने कहा कि किसी भी देश के लिए, मूल्यों में जो पतन होता है वह बहुत बड़ा संकट होता है।

पीएम के सदन में आने की मांग पर बोले बाबुल, बच्चे काफी हैं, डैडी की क्या जरूरत

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में एक छोटा सा वर्ग है, जो करप्शन और काले-धन वालों के साथ खड़ा होने की हिम्मत कर रहा है। उन्होंने इशारों में नोटबंदी का विरोध कर रही पार्टियों पर तंज कसे।

पीएम ने एक बार फिर इमरजेंसी को याद किया। उन्होंने बताया कि किस तरह से उस दौर में लोगों की जबानों पर ताले डाले गए। पीएम ने केदारनाथ के आपातकाल के खिलाफ संघर्ष को भी याद किया।

कांग्रेस के सांसद शशि थरूर ने पीएम मोदी की तुलना बावली बहू से की

नोटबैन पर है सत्ता और विपक्ष में टकराव

पीएम मोदी ने 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया था। इस फैसले के बाद देशभर में कैश की भारी कमी देखने को मिल रही है। 75 से ज्यादा मौतें भी इस फैसले के बाद हो चुकी हैं। जिसको लेकर पीएम विपक्ष के निशाने पर हैं। विपक्ष लगातार नोटबंदी पर प्रधानमंत्री के संसद में जवाब देने की मांग कर रहा है।

वहीं दूसरी ओर पीएम संसद ना जाकर दूसरे मंचों से विपक्ष को निशाने पर ले रहे हैं और नोटबंदी मुद्दे को कालेधन पर कड़ा प्रहार कहते हुए इसकी आलोचना के लिए विपक्ष को लताड़ रहे हैं। इस कार्यक्रम में भी पीएम ने विपक्ष को नोटबैन पर इशारों में निशाने पर लिया।

प्रधानमंत्री को दिया जा सकता है संसद की अवमानना का नोटिस

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
narendra modi speaking at the launch of Kedarnath Sahni Smriti Granth
Please Wait while comments are loading...