• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर से बोले किसान नेता- हमारा अगला मिशन यूपी, BJP को पूरी तरह अलग थलग कर देंगे

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। पिछले 8 महीनों से भी ज्यादा समय से चला आ रहा किसान आंदोलन अब और मुखर होने जा रहा है। दरअसल, किसान संगठनों के नेताओं ने ऐलान किया है कि वे आगामी विधानसभा चुनाव में केंद्र सरकार व भाजपा के खिलाफ प्रचार करेंगे। इसके लिए किसान संगठनों ने उत्तर प्रदेश को चुना है, जिसे 'मिशन यूपी' कहा जा रहा है। आज किसान नेता प्रेम सिंह भंगू ने सिंघू बॉर्डर पर कहा कि, हमारा अगला पड़ाव उत्तर प्रदेश होगा, जो कि भाजपा का गढ़ है।

Farmers leader says- We Are on mission UP 2022, will begin on 5 Sep, Well totally isolate BJP
    Farmers Protest: Jantar Mantar पर लगी किसान संसद, किसानों ने कहा हमारा अगला मिशन UP | वनइंडिया हिंदी

    '5 सितंबर से शुरू होगा मिशन यूपी'
    दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर से किसान नेता भंगू ने कहा कि, हमारा यूपी मिशन 5 सितंबर से शुरू होगा। हजारों किसान उसमें शामिल होंगे। फिर देखिएगा.. हम बीजेपी को पूरी तरह से अलग-थलग कर देंगे। यदि वे (केंद्र सरकार) चाहें तो तीन कृषि कानूनों को निरस्त कर सकते हैं... हमारे पास इन्हें रद्द कराने के अलावा और विकल्प नहीं है। तो सरकार समझ ले..वो इन्हें निरस्त करने की बात करेगी तो हम बातचीत के लिए तैयार हैं।

    किसान संयुक्त मोर्चे से संस्पेड हुए गुरनाम चढ़ूनी का गुट कल दिल्ली रवाना होगा, टिकैत बोले- हमारी योजना अलगकिसान संयुक्त मोर्चे से संस्पेड हुए गुरनाम चढ़ूनी का गुट कल दिल्ली रवाना होगा, टिकैत बोले- हमारी योजना अलग

    संसद की तरफ मार्च करेंगे किसान
    बताते चलें कि, किसान संगठनों के सैकड़ों प्रदर्शनकारी आज दिल्ली की सीमाओं से निकलकर संसद की ओर मार्च करने जा रहे हैं। बताया गया है कि, 200 किसान संसद की ओर जाएंगे। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने किसानों को सीमित संख्या में ही जंतर-मंतर पर धरना की अनुमति दी है।

    देशद्रोह के कानून में गिरफ्तार किसानों की रिहाई के लिए सिरसा में जुटे प्रदर्शनकारी, पुलिस से झड़पदेशद्रोह के कानून में गिरफ्तार किसानों की रिहाई के लिए सिरसा में जुटे प्रदर्शनकारी, पुलिस से झड़प

    Farmers leader says- We Are on mission UP 2022, will begin on 5 Sep, Well totally isolate BJP

    26 जनवरी के बाद अब विरोध-प्रदर्शन की अनुमति
    26 जनवरी को ट्रैक्टर मार्च के दौरान हुई हिंसा के बाद यह पहली बार है, जब पुलिस ने किसानों को दिल्ली में विरोध-प्रदर्शन की अनुमति दी है। हालांकि किसी भी तरह की अनहोनी से बचने के लिए राजधानी में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

    किसानों के लिए अच्छी खबर: हरियाणा में पराली प्रबंधन के लिए अब सरकार देगी हजार रु. प्रति एकड़किसानों के लिए अच्छी खबर: हरियाणा में पराली प्रबंधन के लिए अब सरकार देगी हजार रु. प्रति एकड़

    English summary
    Farmers leader says- We Are on mission UP 2022, will begin on 5 Sep, We'll totally isolate BJP
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X