• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

इस IT कंपनी ने किया मालामाल, एक झटके में 500 लोगों को बनाया करोड़पति

इस IT कंपनी ने एक झटके में 500 लोगों को बनाया करोड़पति
Google Oneindia News

नई दिल्ली। भारतीय आईटी कंपनी फ्रेशवर्क्स (Freshworks) देश की पहली ऐसी भारतीय सॉफ्टवेयर एज ए सर्विस कंपनी बनी है, जिसकी लिस्टिंग अमेरिकी स्टॉक बाजार, नैस्डैक स्टॉक एक्सचेंज में हुई है। भारतीय आईटी सेक्टर की कंपनी फ्रेशवर्क्स की नैस्डैक स्टॉक एक्सचेंज की लिस्टिंग के साथ ही कंपनी ने धमाकदार इंट्री की। इस कंपनी ने लिस्टिंग से पहले आईपीओ को लॉन्च किया था। इस आईपीओ में निवेश करने वाले निवेशकों को बंपर मुनाफा हुआ है। फ्रेशवर्क्स के इस बंपर शुरुआत के साथ ही कंपनी के 500 से अधिक कर्मचारी करोड़पति बन गए हैं। बुधवार को कंपनी का मार्केट कैप 13 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया। फ्रेशवर्क्स कंपनी सॉफ्टवेयर सर्विस मेकिंग कंपनी है।

 कंपनी ने कर्मचारियों को बनाया मालामाल

कंपनी ने कर्मचारियों को बनाया मालामाल

फ्रेशवर्क्स की नैस्डैक स्टॉक एक्सचेंज में धमाकेदार लिस्टिंग हुई। कंपनी के मार्केट कैप में जबरदस्त उछाल आया, जिसके साथ ही कंपनी के 500 कर्मचारी करोड़पति बन गए। चेन्नई की इस कंपनी का मुख्यालय कैलीफोर्निया में है। इस कंपनी की स्थापना 2010 में हुई थी। कंपनी के फाउंडर गिरीश मातृभूमि और शान कृष्णासामी हैं, कंपनी में करीब 4300 कर्मचारी है औक कंपनी के 76 फीसदी कर्मचारियों के पास कंपनी के शेयर हैं। कंपनी ने अपने आईपीओ के जरिए अमेरिका में 91.2 करोड़ डॉलर जुटाने का लक्ष्य रखा था।

500 कर्मचारी हुए मालामाल

500 कर्मचारी हुए मालामाल

फ्रेशवर्क्स कंपनी ने अपने 500 कर्मचारियों को करोड़पति बनाया है, जिसके बाद कंपनी के फाउंडर के बारे में लोग सर्च कर रहे हैं। आपको बता दें कि इस कंपनी के फाउंडर गिरीश मातृभूमि हैं। कंपनी को अमेरिकी नैस्डेक स्टॉक एक्सचेंज में शामिल कर कर्मचारियों को मालामाल बना दिया। कंपनी के शेयर लिस्टिंग प्राइज से 30 फीसदी ज्यादा पर ट्रेड कर रहे हैं। कंपनी के 76 फीसदी कर्मचारियों के पास कंपनी के शेयर्स हैं, जिनमं से अधिकांश कर्मचारियों की उम्र 30 से 69 साल के बीच की है।

 कौन हैं कंपनी के फाउंडर

कौन हैं कंपनी के फाउंडर

कंपनी के फाउंडर गिरीश मातृभूमि चेन्नई के हैं, जिन्होंने पढ़ाई के बाद जोहो का रूख किया और साल 2010 में उन्होंने फ्रेशवर्क्स की स्थापना की। साल 2011 में कंपनी को पहली फंडिंग मिली और उन्हें 10 लाख डॉलर का निवेश मिला। कंपनी ने इसके बाद क के बाद एक प्रोजेक्ट हासिल किए। कंपनी ने रेडी टू गो जैसी सॉफ्टवेयर का निर्माण किया। कंपनी 120 देशों में फैली है।

<strong> SBI, पीएनबी के बाद अब HDFC ने सस्ता किया होम लोन, जानें ब्याज की नई दरें</strong> SBI, पीएनबी के बाद अब HDFC ने सस्ता किया होम लोन, जानें ब्याज की नई दरें

Comments
English summary
Freshworks IPO: More than 500 employees of the Indian IT Company become Crorepati, Know About Girish Matrubhutam who make 500 millionaire
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X