शहाबुद्दीन की रिहाई पर सीवान में मन रहा है जश्न,नाच गा रहे हैं लोग

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बिहार के सीवान से पूर्व विधायक और सांसद मोह्मद शहाबुद्दीन के जेल से 11 साल बाद बाहर आने की खुशियां सिर्फ उनके राजनीतिक समर्थकों और दोस्तों तक ही नहीं सीमित हैं।

अपराध और सियासत के कॉकटेल ने शहाबुद्दीन को बनाया बाहुबली, पढ़िए पूरी क्राइम कुंडली

शहाबुद्दीन की जमानत पर रिहाई होने के बाद सीवन के आम लोग भी खुशियां मना रहे हैं। शहाबुद्दीन की पत्नी हिना ने कहा की हम सभी खुश हैं और इस मौके पर जश्न मनाएंगे। आईये देखते हैं जश्न की तस्वीरें।

ये है इतिहास

ये है इतिहास

बता दें कि शहाबुद्दीन बीते 11 साल से जेल की सलाखों की पीछे था। सीवान के हुसैनगंज पुलिस स्टेशन में शहाबुद्दीन का नाम हिस्ट्रीशीट टाइप ए के अपराधियों में दर्ज है।

डरती थी पुलिस

डरती थी पुलिस

कभी सीवान में कंगारू अदालत चलाने वाला शहाबुद्दीन राजद सुप्रीमो लालू यादव की शह पर इतना आगे बढ़ चुका था कि पुलिस उससे आंख मिलाने से भी डरती थी।

खिलाफ चुनाव लड़ने वाले मारे जाते थे

खिलाफ चुनाव लड़ने वाले मारे जाते थे

पुलिस के साथ-साथ वो लोग भी शहाबुद्दीन से डरते थे जो चुनाव लड़ना चाहते थे। जो भी उसके खिलाफ चुनाव लड़ना चाहते थे वो या तो मारे पीटे जाते थे या फिर वो खुद ही शहाबुद्दीन के सामने आत्मसमर्पण कर देते थे।

पिता ने भी जताई खुशी

पिता ने भी जताई खुशी

वहीं शहाबुद्दीन को जमानत पर रिहाई के बाद उसका परिवार बहुत खुश है। उसके पिता ने कहा कि परिवार के साथ साथ पड़ोसी भी खुश हैं।

कभी नहीं आ रसूख में कमी

कभी नहीं आ रसूख में कमी

बावजूद की जेल में जाने के भी इसने अपने रसूख में कभी कोई कमी नहीं आने दी। जेल में ही बैठकर पंचायत चलती थी। वो बैठे बिठाए पुलिस वालों का प्रमोशन करा देता था।

BSNL 1199: सब कुछ फ्री देने वाले इस ऑफर में है एक लोचा

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Locals at former RJD MP Mohd Shahabuddin's village Pratappur in Siwani celebrate on his release after 11years.
Please Wait while comments are loading...