• search

बिहार की इन नदियों में प्रवाहित होंगी अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां, ये होगा रूट मैप

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    पटना। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश पटना पहुंच चुकी है। अटल जी के अस्थि कलश को बिहार पार्टी मुख्यालय में नेता, कार्यकर्ताओं एवं आम जन के दर्शन के लिए रखा गया है। 23 अगस्त 2018 को गुरुवार सुबह 8 बजे अस्थि कलश को 11 रथों पर, बनाए गए रूट मैप के अनुसार बिहार की 11 प्रमुख नदियों में प्रवाहित किया जाएगा। इन सभी रथों पर बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में 11 टीमें होंगी, जो अस्थि को विभिन्न नदियों में प्रवाहित करेंगी।

    बिहार की इन नदियों में प्रवाहित होंगी अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां, ये होगा रूट मैप

    अटल के अस्थि कलश का रूट मैप इस प्रकार है-

    पहला रूट: नवादा- हिसुआ- वजीरगंज- मानपुर- आजादपार्क होते हुए गया में विसर्जन।

    दूसरा रूट: आरा- गडहनी- चरपोखरी- पिरो- विक्रमगंज- नटवार दिनारा- सासाराम- मोहनिया- रामगढ- चौसा- राजपुर होते हुए बक्सर में अस्थियों का विसर्जन।

    तीसरा रूट: पटना- फुलवारी- वाल्मी- भुसौला- खगौल- दानापुर- मनेर- बिहटा- महाबलिपुर- पालीगंज- दुल्हिन बाज़ार- विक्रम- नौबतपुर- मसौढ़ी- धनरुआ- नदवा के बाद पुनपुन घाट पर विसर्जन।

    चौथा रूट: अरवल- दाउद नगर- गोह- रफीगंज- मदनपुर- औरंगाबाद- देव- अम्बा- नवीनगर- वारुण होकर डिहरी ऑन सोन नदी में विसर्जन।

    पांचवा रूट: फतुहा नगर- खुशरूपुर- बखित्यारपुर शहर- हरनौत- बिन्द- बरबीघा- शेखपुरा- सिकंदरा- जमुई- नवीनगर- तेतरहट- लखीसराय- सूर्यगढ़ा- मिदनी चौक होकर मुंगेर में विसर्जन।

    छठा रूट: नरपतगंज- फारबिसगंज- अररिया- किशनगंज- पूर्णिया (आर एम् साह चौक)- रौतारा (कटिहार)- मिरचाई बाड़ी- बस्तौल- सनौली- झाऊआ (कटिहार) के बाद महानंदा नदी में कलश विसर्जन।

    सातवां रूट: बख्तियारपुर- बाढ़- मोकामा- लखीसराय- सफियासराय (मुंगेर)- सुल्तानगंज- बेलहर- कटोरिया- बांका- खुशिया- अमरपुर- भागलपुर शहर भ्रमण- कलश विसर्जन, नवगछिया- गंगा घाट खगड़िया कलश विसर्जन।

    आठवां रूट: (a) अनजानपीर- लालगंज (घटारो)- बेदौली चौक- वैशाली ब्लॉक- सरैया- मरवन- पताही- भागवानपुर- जीरो मईल- झपहा- खनुआ- कतौन्झा- बागमती नदी में अस्थि विसर्जन।

    आठवां रूट: (b) रुन्नीसैदपुर- सीतामढ़ी- गोइन्का कॉलेज- बाजपट्टी- पुपरी- बेनीपट्टी- रहिका- मधुबनी- बिरौल- निर्मली (सुपौल)- पिपरा- सिघेश्वर (मधेपुरा)- सहरसा- कोशी बलुआ में विसर्जन।

    नौवा रूट : (a) गोविन्दचक- नयाँ गाँव- शीतलपुर- आमी- नगरपालिका चौक- भगवान बाज़ार- रिविलगंज- सिमरिया- मांझी घाघरा नदी में अस्थि विसर्जन।

    नौवा रूट: (b) एकमा- रसलपुर- दरौन्धा- बबुनिया मोड़- बरहरिया मोड़- मीरगंज- थावे- गोपालगंज (आंबेडकर चौक)- महमदपुर होते हुए डुमरिया घाट में अस्थि विसर्जन।

    दसवां रूट: तेतरिया- चकिया- कल्याणपुर- केसरिया- बेलवा- पिपरा कोठी- छतौनी चौक- गाँधी काम्प्लेक्स- कचहरी चौक- तुरकौलिया- गोविंदपुर- अरेराज- हरिसिधि- सुगौली- रक्सौल- बेतिया- चनपटिया- नरकटियागंज- रामनगर- लौरिया- बगहा से होकर गंडक नदी में अस्थि विसर्जन।

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Atal Bihari Vajpayee's bones will flow in these rivers of Bihar, this will be the route map

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more