• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP Latest News : चीफ सेक्रेटरी इकबाल सिंह बैंस को मिला 6 माह का एक्सटेंशन, रिटायरमेंट के जारी हुआ आदेश

एमपी के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस को केंद्र सरकार ने 6 महीने के लिए चीफ सेक्रेटरी के पद पर एक्सटेंशन दे दिया है केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय द्वारा आज आदेश जारी किए गए।
Google Oneindia News

मध्य प्रदेश के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस को केंद्र सरकार ने 6 महीने के लिए चीफ सेक्रेटरी के पद पर एक्सटेंशन दे दिया है। केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय द्वारा आज जारी किए गए आदेश में 1985 बैच के आईएएस अफसर इकबाल सिंह बैंस का कार्यकाल 1 दिसंबर 2022 से 31 मई 2023 तक बढ़ा दिया गया है। मौजूदा मुख्य सचिव बैंस के एक्सटेंशन को लेकर लंबी खींचतान मची हुई थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैंस के एक्सटेंशन को लेकर 9 नवंबर को प्रस्ताव भेजा था जिस पर भारत सरकार ने यह फैसला लिया है। बता दे बैंस के एक्सटेंशन को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिल्ली में मुलाकात भी की थी।

चीफ सेक्रेटरी इकबाल सिंह बैंस को मिला 6 माह का एक्सटेंशन

24 मार्च 2020 के मुख्य सचिव पद की जिम्मेदारी संभालने वाले 1985 बैच के आईएएस अधिकारी इकबाल सिंह बैंस ने कोरोना के कठिन दौर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्राथमिकताओं को बखूबी निभाया और प्रशासनिक तंत्र को मजबूत करने का काम किया। सीएम द्वारा लगातार मॉर्निंग बैठकों में भी मुख्य सचिव मौजूद रहते हैं इसी बात को लेकर हमेशा सीएम शिवराज उनकी प्रशंसा भी करते हैं। सरकारी तंत्र को मजबूत रखने में इकबाल सिंह बैंस की अहम भूमिका रही। इसी वजह से मुख्यमंत्री ने उनका 6 महीने का कार्यकाल और बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया।

प्रतिनियुक्ति से वापस बुलाकर सीएम ने बनाया था अपना पीएस

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इकबाल सिंह बैंस की वर्किंग से इस हद तक प्रभावित रहे हैं कि जब भैंस 2013 में केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर संयुक्त सचिव बनकर चले गए थे तो केंद्र में बीजेपी की सरकार बनने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने अगस्त 2014 में केंद्र सरकार से आग्रह करके वापस मध्यप्रदेश बुला लिया था और अपना प्रमुख सचिव बनाया था। 24 मार्च 2020 को शिवराज सिंह चौहान फिर चौथी बार मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने एम गोपाल रेड्डी को हटाकर इकबाल सिंह बैंस को मुख्य सचिव बना दिया था।

प्रशासनिक कामकाज में सख्त फैसले लेने के लिए जाने जाते हैं बैंस

मध्य प्रदेश के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस की छवि एक सख्त IAS अफसर की है। वह अमूमन कम बोलते हैं, लेकिन उन्होंने जो फैसले नहीं है वह बहुत ही सख्त और प्रभावी हुए हैं। करुणा काल में भी उन्होंने बेहतर प्रबंधन किया इकबाल सिंह बैंस शुरू से ही अपनी कार्यशैली को लेकर आम अफसरों से हट कर रहे हैं वे मुख्य सचिव पद से पहले जिस भी विभाग में रहे उन्होंने वहां पर अपनी छाप छोड़ी है। देश में पहली बार आनंद विभाग का गठन भी उनकी ही पहल पर हुआ था कृषि उद्यानिकी ऊर्जा विमानन, आबकारी आयुक्त पंचायत एवं ग्रामीण विकास, संसदीय कार्य से विभागों में काम कर चुके इकबाल सिंह बैंस ने सीहोर,खंडवा, गुना और भोपाल कलेक्टर के रूप में भी सफल जिम्मेदारी निभाई थी।

ये भी पढ़ें : जमीन में गड़बड़ करने वालों को लटका दूंगा और नौकरी खा लूंगा- शिवराज सिंह चौहान : ...ये भी पढ़ें : जमीन में गड़बड़ करने वालों को लटका दूंगा और नौकरी खा लूंगा- शिवराज सिंह चौहान : ...

Comments
English summary
Chief Secretary Iqbal Singh Bains got 6 months extension, order issued for retirement
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X