• search
अमेठी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

मृतक के भाई का कॉलर खींचकर निशाने पर आए अमेठी के डीएम, स्मृति ईरानी ने कही ये बात

|

अमेठी। यूपी के अमेठी में भाजपा नेता शिव नायक सिंह के पुत्र भट्टा व्यवसाई सोनू सिंह की मंगलवार की देर शाम हत्या कर दी गई थी। घटना के बाद क्षेत्र में बवाल मचा था। बुधवार को शव के पोस्टमार्टम के दौरान अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार आक्रोशित परिजनों को समझाने पहुंचे, लेकिन इस दौरान उन्होंने अचानक मृतक के चचेरे भाई को कॉलर पकड़कर घसीट दिया। ​जिस व्यक्ति का डीएम ने कॉलर घसीटा, वह खुद पीसीएस अफसर है।

स्मृति ईरानी ने कहा- हम सेवक हैं, शासक नहीं

स्मृति ईरानी ने कहा- हम सेवक हैं, शासक नहीं

वीडियो सामने आते ही डीएम साहब सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ गए। मामले ने तब तूल पकड़ लिया जब स्मृति ईरानी ट्वीटर पर अमेठी के डीएम को टैग करते हुए कहा, ''विनय शील एवं संवेदनशील बने हम यही प्रयास होना चाहिए। जनता के हम सेवक हैं, शासक नहीं।''

बाजार से लौटते वक्त हुई थी भाजपा नेता के बेटे की हत्या

बाजार से लौटते वक्त हुई थी भाजपा नेता के बेटे की हत्या

बता दें कि मंगलवार की देर शाम गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के बिसुनदासपुर गांव निवासी ईंट भठ्ठा मालिक विजय कुमार सिंह उर्फ सोनू (33) पुत्र शिव नायक सिंह (भाजपा नेता) का चचेरा भाई अर्पित सिंह पुत्र शिव प्रताप सिंह मंगलवार की देर शाम किसी काम से गौरीगंज बाजार आया था। अर्पित बाजार से लौट रहा था तभी रास्ते में मुसाफिरखाना तिराहे पर स्थित नहर पुल के पास दो बाइकों पर सवार पांच युवकों से उसका विवाद हो गया। अर्पित ने रास्ते से गुजर रहे एक परिचित से अपने बड़े भाई विजय कुमार सिंह उर्फ सोनू को मदद के लिए भेजने को कहा। सूचना मिलते ही विजय उर्फ सोनू बाइक लेकर नहर पुल के पास पहुंचे तभी उन्हें गोलियों से भून डाला गया।

पांच के खिलाफ नामजद तहरीर

पांच के खिलाफ नामजद तहरीर

एक गोली सोनू के सिर पर लगी, जबकि दूसरी पेट में लगी। गोली मारने के बाद हमलावर असलहा लहराते हुए फरार हो गए। फायरिंग की आवाज सुनकर बाजार में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंचे लोगों ने भठ्ठा मालिक को तत्काल संयुक्त जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। भठ्ठा मालिक की हत्या से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। हत्या की सूचना मिलते ही एसपी डॉ. ख्याति गर्ग पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गईं। क्षेत्रीय विधायक राकेश सिंह के साथ ही सत्तापक्ष व विपक्ष के तमाम नेता भी अस्पताल पहुंच गए थे। परिजन का आरोप है कि हत्या करने वाला एसओजी टीम की गाड़ी चलाता था। परिजनों ने पांच लोगों के खिलाफ थाने में नामजद तहरीर दी है, जिसके आधार पर पुलिस हत्यारोपियों की तलाश में जुटी है।

अमेठी: भाजपा नेता के बेटे की गोलियों से भूनकर हत्या, बवाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
amethi dm trolls for misbehaves with brother of deceased bjp leader son
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X