• search
आगरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

COVID-19: UP का सबसे बड़ा हॉटस्पाट बना आगरा, पारस हॉस्पिटल के संचालक व मैनेजर पर FIR

|

आगरा। कोरोना वायरस के संक्रमण से ताजनगरी आगरा का हाल बेहद खराब है। कोविड-19 के संक्रमण से यहां पांच लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 174 लोग पॉजिटिव हैं। इनमें 152 तबलीगी जमाती हैं। ताजनगरी आगरा के साथ पास के दस से ज्यादा जिलों तक कोरोना वायरस का बड़ा संक्रमण फैलाने वाले जिले के पारस हॉस्पिटल के खिलाफ शुक्रवार को रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। इस अस्पताल से अब तक 28 रोगी संक्रमित मिल चुके हैं। जिला प्रशासन ने अस्पताल संचालक डॉक्टर अरिंजय जैन और प्रबंधक एसपी यादव के खिलाफ जानकारी छिपाने के आरोप में केस दर्ज कराया है। यह केस आईपीसी धारा 188, 269, 270, 271 के तहत न्यू आगरा थाने में दर्ज हुआ है।

अस्पताल ने छिपाई जानकारी

अस्पताल ने छिपाई जानकारी

दरअसल, आगरा के मंटोला थाना क्षेत्र के सदर भट्टी की रहने वाली अस्थमा से पीड़ित एक महिला का पारस अस्पताल में इलाज हुआ था। सेहत में सुधार न होने पर उसे 2 अप्रैल को मथुरा के नयति अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया था। महिला का कोरोना टेस्ट किया गया तो वह पॉजिटिव निकली। इसके बाद आगरा प्रशासन ने पारस अस्पताल को खाली कराया था। अस्पताल के कर्मियों व भर्ती मरीजों का सैंपल लिया गया था। आरोप है कि अस्पताल के स्टॉफ, भर्ती मरीजों की जानकारी ली गई तो कभी 57 तो कभी 73 बताई गई, लेकिन जब लोगों को क्वारंटाइन कराने के लिए बाहर निकाला गया तो 220 लोग निकले। इन 220 लोगों में से अब तक 28 संक्रमित मिल चुके हैं।

इटावा में एक शख्स कोरोना पॉजिटिव

इटावा में एक शख्स कोरोना पॉजिटिव

पारस हॉस्पिटल में बीते 22 मार्च से छह अप्रैल तक 96 मरीज भर्ती रहे, इनमें आगरा के 32, मैनपुरी के 17, फिरोजाबाद के 11, एटा के 10, इटावा के 7, हाथरस के 5, औरैया के 2, फर्रूखाबाद के 2, कासगंज के 6, मथुरा के 2 और अलीगढ़, कन्नौज के एक-एक मरीज शामिल हैं। शुक्रवार को इटावा में ताखा ब्लॉक के सुतियानी गांव निवासी एक शख्स कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। वह पत्नी का इलाज कराने पारस अस्पताल आया था।

गांव सील, प्रशासन ने की लोगों से अपील

गांव सील, प्रशासन ने की लोगों से अपील

प्रशासन ने गांव को सील कर दिया है और लोगों से अपील की है कि यदि कोई बाहर से आया है तो वह इसकी जानकारी दे, जिससे कोरोना का संक्रमण फैलने से रोका जा सके। जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह का कहना है कि पारस हॉस्पिटल आगरा का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट है। ऐसे में हॉस्पिटल में भर्ती दोनों महिलाएं पहले से ही गंभीर बीमारियों से पीड़ित थीं। मौत होने के बाद ICMR की गाइडलाइन के हिसाब से सैंपल लिए गए और दोनों कोरोना पॉजिटिव पाई गईं।

आगरा में कोरोना वायरस से एक और मौत, मरीजों की संख्या 167 हुई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
FIR against paras hospital in agra for spreading coronavirus
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X