• search
आगरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

आगरा: सर्राफा दं​पति की हत्या और लूटकांड का खुलासा, पुलिस ने 5 करोड़ का माल बरामद किया

|

आगरा. उत्तर प्रदेश में ताजनगरी आगरा के शमशाबाद इलाके में हुए डबल मर्डर का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। यहां एक सर्राफा व्यवसायी और उनकी पत्नी की करंट लगाकर हत्या कर दी गई थी। बदमाशों ने करोड़ों रुपए का माल भी लूटा था। साथ ही घर में लगे सीसीटीवी कैमरे भी उखाड़ ले गए थे। अब पुलिस ने इस दोहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए 5 करोड़ का माल बरामद किया है।

वारदात 27 जनवरी की रात अंजाम दी गई थी

वारदात 27 जनवरी की रात अंजाम दी गई थी

एडीजी अजय आंनद और आईजी ए. सतीश ने प्रेस कॉन्फ्रेस कर बताया कि, 2 हत्यारोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। उनसे 11 किलोग्राम सोना, 24.7 किलोग्राम चांदी और करीब 13.5 लाख रुपए बरामद हुए हैं। हत्या की वारदात 27 जनवरी की रात शमसाबाद में अंजाम दी गई थी। सर्राफा कारोबारी व सर्राफा कमेटी के अध्यक्ष मुकलेश गुप्ता (62 वर्ष) और उनकी पत्नी लता गुप्ता (60 वर्ष) की निर्मम हत्या कर दी गई थी।

हत्यारोपी की पहचान कपिल गुप्ता के रूप में हुई

हत्यारोपी की पहचान कपिल गुप्ता के रूप में हुई

28 जनवरी की सुबह इस घटना का पता चला था। इस मामले में कस्बे का ही परचून दुकानदार मास्टर माइंड निकला है। उसकी पहचान कपिल गुप्ता के रूप में हुई है। कपिल ने आपराधिक प्रवृति के ओम बाबू राठौड़ को अपने साथ लिया था और फिर वारदात को अंजाम दिया। बताया जाता है कि, मृतक सर्राफा कारोबारी मुकलेश गुप्ता की तीन पुत्रियां हैं। जिनकी शादी हो चुकी है।

यूं बनाई थी खौफनाक योजना

यूं बनाई थी खौफनाक योजना

हत्यारोपी कपिल गुप्ता के बारे में बताते हुए पुलिस अधिकारी ने कहा कि वह मुकलेश गुप्ता का परिचित ही था। जो कि, कस्बे में ही इरादतनगर रोड पर परचून की दुकान चलाता था। कपिल पर 10 लाख रुपए से ज्यादा का कर्ज हो गया था। दूसरा साथी ओम बाबू राठौर भी कर्ज में डूबा हुआ था। दोनों ने मुकलेश की संपत्ति के बारे में बताया और लूट की योजना बना डाली। इसी के तहत ये दोनों 22 जनवरी को उनकी दुकान पर पहुंचे और वहां से उधार में एक अंगूठी खरीदी।

 घर में घुसकर पति—पत्नी को मारा

घर में घुसकर पति—पत्नी को मारा

बता दें, इसका पैसा देने के बहाने हत्यारे 26 जनवरी की शाम को मुकलेश के घर पहुंचे, लेकिन दंपती ने दरवाजा नहीं खोला। इसके अगले दिन यानि 27 जनवरी को कपिल ने मुकलेश के फोन किया कि हम लोग शाम को घर पर अंगूठी के रुपये दे आएंगे। आप घर पर बता दीजिएगा। कपिल और ओम बाबू 27 जनवरी को करीब 7 बजे मुकलेश के घर पहुंचे तो पत्नी लता ने दरवाजा खोल दिया। घर में घुसकर कपिल और ओम बाबू ने लता की गला दबाकर हत्या कर दी।

कुल पांच करोड़ का माल लूटा

कुल पांच करोड़ का माल लूटा

कपिल ने लता के गले में प्रहार किए। फिर दोनों ने अलमारी में रखा सोना व नकदी लूट ली। उस समय मुकलेश अपने भांजे को छोड़ने गए हुए थे। रात आठ बजे, जब वे वापस लौटे तो कपिल और ओम बाबू ने घटना का कोई भी सुराग न छोड़ने की वजह से उन्हें भी जान से मार दिया और सीसीटीवी का डीवीआर भी साथ ले गए। मर्डर और लूट के बाद ये लूटे गए सोने को ठिकाने लगाने की फिराक में लगे हुए थे, इस घटना में पांच करोड़ का माल लूटा।

बिजली का तार भी उनके शरीर से बांधा था

बिजली का तार भी उनके शरीर से बांधा था

मृतक सर्राफ मुकलेश गुप्ता और उनकी पत्नी लता गुप्ता के अलावा घर पर कोई और नहीं रहता है। इसलिए अब लूटे गए सोने और नकदी के बारे में कोई ठोस जानकारी सामने नहीं मिली। सभी अपना अंदाजा बता रहे थे। पकड़े गए आरोपितों से जो सोना और नकदी बरामद की गई है, वह पांच करोड़ से ऊपर है। मरने की पुष्टि करने को लगाया था करंट एडीजी अजय आंनद ने बताया कि, सर्राफा व्यवसाई मुकलेश और उनकी पत्नी की गला दबाकर हत्या की। इसके बाद कपिल और ओम बाबू ने टेप लगाकर बिजली का तार उनके शरीर से बांधा था। कपिल ने बताया कि वे इस बात की पुष्टि करना चाहते थे कि ये लोग जिंदा हैं या मर गए।

आगरा: सर्राफा व्यवसायी पति और पत्नी की निर्मम हत्या, स्विच में लगा था हाथ में लिपटा तार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Agra Police Reveal of 5 crore robbery and the murder of Saraf businessman couple
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X