Tap to Read ➤

Water Fall Bihar: दुनिया भर में मशहूर हैं यह 5 झरने, आप भी करें दीदार

गोवा की तरह वाटर गेम्स का आप भी लुत्फ उठा सकते हैं। आइए जानते हैं बिहार में मौजूद झरनों में क्या खास देखने को मिल सकता है ?
inzamam
बिहार के लोगों के लिए यह सबसे पसंदीदा पिकनिक स्पॉट माना जाता है। घूमने के शौकीन युवा अकसर वीकेंड पर यहां का नज़ारा लेने पहुंचते हैं
बिहार और झारखंड के बॉर्डर पर काकोलाट वाटरफॉल है। प्रदेश के सबसे अच्छे झरनों में शुमार यह वाटरफॉल बिहार के नवादा जिले से सिर्फ 33 किलोमीटर की दूर है
ककोलात वाटरफॉल
काकोलट पहाड़ियों से निकलते हुए क़रीब 160 फीट की ऊंचाई से वाटरफॉल होता है। झरने के चारों तरफ़ वन क्षेत्र होने की वजह से पानी गिरने का नज़ारा काफ़ी दिलकश होता है
ककोलात वाटरफॉल
कैमूर पहाड़ियों के क़रीब बेहद खूबसूरत करकट वाटरफॉल है, यहां के वाटरफॉल का नज़ारा सिर्फ़ भारतीयों के बीच नहीं बल्कि विदेशों में भी इसकी खूबसूरती की तारीफ़ होती है
करकट वाटरफॉल
हेनरी रामसे नाम के ब्रिटिश अधिकारी ने करकट वाटरफॉल का ज़िक्र सबसे शानदार झरनों में किया था। यहां बोटिंग, तैराकी और मछली पकड़ने जैसा वाटर गेम्स का लुत्फ उठा सकते हैं
करकट वाटरफॉल
दुर्गावती नदी के उद्गम के पास तेलहर वाटरफॉल है, ग़ौरतलब है कि झरने का पानी तेलहर कुंड झील में गिरता है
तेलहर वाटरफॉल
कैमूर वाइल्डलाइफ सैन्चुरी के अधीन यहां पर एक गर्म पानी का झरना भी काफ़ी चर्चित है। लेकिन यह नहाना और तैराकी की इजाज़त नहीं है
गर्म पानी का झरना
अमझौर गांव (रोहतास) स्थित कशिश वाटरफॉल का भी नज़ारा काफी हसीन होता है। क़रीब 800 फीट ऊंचाई स्थित पहाड़ से निकलने वाले चार झरने 3 दिशाओं में गिरते हैं
कशिश वाटरफॉल
मंझर कुंड वाटरफॉल (रोहतास) के बारे में स्थानीय लोगों का मानना है कि इस कुंड का पानी प्राकृतिक खनिजों से बना हुआ है। खाना खाने बाद कुंड का पानी पीने से भोजन आसानी से पचता है।
मंझर कुंड वाटरफॉल
यहां भी घूमें