Tap to Read ➤

PF से पैसा निकालने पर यूं बचा सकते हैं TDS

पीएफ अकाउंट में जमा पैसा लोगों के लिए रिटायरमेंट के बाद की उनकी जमा पूंजी होती है। लेकिन कई बार पीएफ से पैसे निकालते वक्त लोगों को टैक्स देना पड़ता है।
आमतौर पर रिटायरमेंट खाताधारक पीएफ अकाउंट से पूरे पैसे निकाल सकता है, लेकिन, कुछ स्पेशल स्थिति में भी पैसे निकालने की अनुमति होती है।
लेकिन पीएफ अकाउंट मैच्योर होने से पहले पैसे निकालने पर उस पर टीडीएस कटता है। ऐसी स्थिति में भी टीडीएस से बचा सकता है, उसके ये स्टेप फॉलो कर सकते हैं
कब कटता है TDS
अगर कोई कर्मचारी पांच साल से कम अवधि में पीएफ से 50 हजार से ज्यादा पैसे एक बार में निकालता है तो उस परिस्थिति में टीडीएस के पैसे कटता है।
अगर पैसे निकालते वक्त 15G/15H फॉर्म जमा करने पर और पैन कार्ड जमा करने पर 10 प्रतिशत टीडीएस कटेगा।
वहीं 31 मार्च के बाद पैन कार्ड आधार से लिंक न होने की स्थिति में इनवैलिड हो जाएगा, ऐसे में पीएफ से पैसे निकालने पर 34.608 परसेंट टीडीएस कट जाएगा।
कब टीडीएस नहीं लगेगा
एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पीएफ फंड ट्रांसफर करने पर टीडीएस नहीं कटता है
बीमारी के चलते कर्मचारी की नौकरी छूट जाए, कंपनी अपना कामकाज बंद कर दे, कोई प्रोजेक्ट पूरा हो जाए या लगातार 60 दिनों तक अगर पीएफ खाते में पैसे जमा नहीं होते हैं
अगर कर्मचारी पांच साल बाद अपना पीएफ का पैसा निकाले तो टीडीएस नहीं कटता है
अगर पीएफ का पैसा 50,000 रुपये से कम हो, लेकिन मेंबर की नौकरी 5 साल से कम बची हो टीडीएस नहीं कटता है।
किसी कर्मचारी की नौकरी 5 साल से कम बची हो और वह पीएफ से 50,000 से अधिक की राशि निकाले, लेकिन पैन के साथ फॉर्म 15G/15H जमा कर दे।