Tap to Read ➤

Bollywood Story: जब मौत को मात देकर वापस लौटे अभिनेता अमिताभ बच्चन

बॉलीवुड में 'शहंशाह' और 'बिग बी' के नाम से जाने वाले अभिनेता अमिताभ बच्चन आज 80 साल के हो चुके हैं। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि एक फिल्म शूटिंग के दौरान उनके साथ ऐसा हादसा हुआ कि अमिताभ बच्चन अस्पताल में जिंदगी और मौत से जंग लड़ते रहे।
DEEPAK SAXENA
अमिताभ बच्चन फिल्म इंड्रस्टी का एक ऐसा नाम जो सबके दिलों और जुबां पर हमेशा चढ़ा रहता है। लेकिन, एक फिल्म शूटिंग के दौरान हुए हादसे ने अमिताभ को मौत के मुंह के पास लाकर खड़ा कर दिया।
घटना 24 जुलाई 1982 की हैं, जब अमिताभ बच्चन फिल्म कुली की शूटिंग बेंगलुरु में कर रहे थे। इस दौरान अभिनेता पुनीत इस्सर और अमिताभ के साथ एक एक्शन सीन शूट होना था।
शूटिंग के दौरान पुनीत इस्सर का मुक्का गलती से अमिताभ बच्चन के पेट में लग गया। मुक्कें का प्रहार इतना तेज था कि अमिताभ के गंभीर चोटें आ गईं।
उनकी हालत काफी बिगड़ गई, जहां बेंगलुरु में उनकी कई मल्टीपल सर्जरी हुई। उसके बाद उन्हें मुंबई के ब्रिज कैंडी अस्पताल में रेफर कर दिया गया।
इलाज के दौरान एक समय ऐसा आया कि दवाईयां अमिताभ के शरीर पर काम नहीं कर रही थी। साथ ही उन्हें निमोनिया हो गया, जिससे जहर उनके शरीर में फैल रहा था।
इस दौरान अमिताभ (Amitabh Bachchan) को 200 लोगों का खून चढ़ाया गया। इसमें पुनीत इस्सर की पत्नी का भी खून शामिल था।
वहीं, लोग अपने सुपरस्टार की सलामती के लिए दुआएं मांग रहे थे। साथ ही लोग मंदिर में जाकर पूजा पाठ और हवन कर रहे थे।
अमिताभ बच्चन ने एक इंटरव्यू में बताया कि डॉक्टरों ने उन्हें मेडिकली डेड मान लिया था। लेकिन, उनकी डॉक्टरों की कोशिश और लोगों की दुआएं उन्हें मौत के मुंह से खींच लाई।