Tap to Read ➤

एशिया का सबसे बड़ा आदिवासी महोत्सव

तेलंगाना में आदिवासियों के महोत्सव मेधराम जठारा का शुभारंभ हो चुका है
महोत्सव का आयोजन तेलंगाना के मेदराम के पास कन्नेपल्ली नामक गांव में हो रहा है
16 फरवरी को सरालम्मा के आगमन से इस महोत्सव की शुरुआत हुई
यह महोत्सव तेलंगाना की कोया जनजाति का खास पर्व है
इस महोत्सव में देवी सम्मक्का और उनकी बे‍टी देवी सरलम्मा की पूजा की जाती है
जनजातीय मामलों के मंत्रालय के सहयोग से इस महोत्सव का आयोजन हो रहा है
तेलंगाना की संस्कृति से जुड़े इस महोत्सव में देश भर से करोड़ों श्रद्धालु आते हैं
महाकुंभ के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा उत्सव है यह चार दिवसीय मेला
वनइंडिया के साथ बने रहने के लिए धन्यवाद
 क्लिक करें और पढ़ें और भी रोचक खबरें
Oneindia Hindi
Credits