Tap to Read ➤

8 अरब हुई दुनिया की आबादी मगर कई देशों में रहने के लिए लोग ही नहीं

UN की रिपोर्ट के अनुसार एशिया-अफ्रीका के कई देश अधिक आबादी का सामना कर रहे हैं लेकिन इसका दूसरा पक्ष यह है कि जापान, इटली और ब्राजील जैसे देश आने वाले दशकों में इंसानों की कमी से जूझने जा रहे हैं।
sanjay jha
जापान
आबादी के हिसाब से जापान दुनिया का सबसे बुजुर्ग देश है। जापान में काम करने वाले लोग नहीं मिल रहे हैं।
इटली
इटली को यूरोप का जापान कहा जा सकता है। लगभग एक चौथाई आबादी यहां की 65 पार है।
ईरान
ईरान में सालाना जनसंख्या वृद्धि दर 1% से भी कम हो गई है। अगले 30 सालों में ईरान दुनिया से सबसे बुजुर्ग देशों में एक हो जाएगा।
ब्राजील
ब्राजील
ब्राजील में आबादी दर घटकर 1.7 % रह गई है। रिपोर्ट के मुताबिक ब्राज़ील की आबादी 2017 में 21 करोड़ थी जो 2100 में घटकर 16 करोड़ के करीब हो जाएगी
बुल्गारिया
बुल्गारिया की जनसंख्या भी तेजी से कम हो रही है। यहां की आबादी में गिरावट के लिए बड़े पैमाने पर प्रवासन जिम्मेदार है।
लिथुआनिया
लिथुआनिया की जनसंख्या अगले तीन दशकों में 22.1% कम होने का अनुमान है। यहां की आबादी 2.7 मिलियन से घटकर 2.1 मिलियन हो जाने की उम्मीद है।
यूक्रेन
यूक्रेन भी आबादी की कमी से जूझ रहा है। उच्च मृत्यु दर और निम्न जन्म दर के साथ प्रवासन की उच्च दर यूक्रेन की जनसंख्या में कमी के मुख्य फैक्टर हैं।