Tap to Read ➤

जानिए कैसे होता है Cyclones का नामकरण ?

भारत में हर साल कई चक्रवाती तूफान दस्तक देते हैं।
अब एक बार फिर से देश में नए चक्रवाती तूफान ने दस्तक दे दी है।
चक्रवाती तूफान असानी का शुरूआती असर आज सुबह से ही दिखना शुरू हो गया है।
अब तक देश में कई चक्रवाती तूफान आए हैं जिनमें यास, जवाद और भी बहुत सारे तूफान हैं।
इन चक्रवाती तूफानों के नाम काफी अजीब होते हैं, ऐसे में हर किसी के दिमाग में एक सवाल जरूर आता है कि इनका नाम कौन रखता है।
आज हम आपको यही बताने वाले हैं कि चक्रवाती तूफानों का नामकरण कैसे होता है ?
हिंद महासागर में हर साल कई तरह के चक्रवाती तूफान आते हैं।
जिनका असर भारत, बांग्‍लादेश, मालदीव, म्‍यांमार, ओमान, पाकिस्‍तान, श्रीलंका और थाइलैंड पर पड़ता है।
हालांकि साल 2004 में इन 8 देशों के बीच तूफानों के नाम रखे जाने को लेकर सहमति बनी थी।
उसके बाद सभी देशों ने 8-8 नाम दिए जिसके बाद World Meteorological Organization (WMO) के पास कुल 64 नाम हो गए।
उन सभी नामों को उनके अल्फाबेट के अनुसार रखते हुए एक लिस्ट तैयार की गई है।
जिनके अनुसार ही इन चक्रवाती तूफानों का नामकरण किया जाता है। आपको बता दें कि WMO का मुख्यालय जेनेवा है।
अपने बंद पड़े PPF अकाउंट को ऐसे करें Activate
Readmore