Tap to Read ➤

इन बातों का रखे ख्याल, आपकी भी होगी 'सेफ एंड हैप्पी दिवाली'

दिवाली प्रकाश और उल्लास का त्योहार है। लेकिन, हम अपने एंजॉय में इतना मदमस्त हो जाते हैं कि हम कई चीजों को नुकसान पहुंचाने लगते हैं। तो हमे इन खास बातों का ध्यान रखकर सेफ दिवाली मनानी चाहिए, आइए जानते हैं।
DEEPAK SAXENA
दिवाली के दिन लोग अपने घर में काफी सजावट करते हैं। ऐसे में कई लोग घरों में रंगोली बनाते हैं। तो इसके लिए केमिकल वाले रंगों के इस्तेमाल से बचें। साथ ही फूलों से बने रंग या ऑर्गेनिक रंगों का इस्तेमाल करें।
दिवाली में पटाखों के शोर से सबसे ज्यादा परेशानी जानवरों को होती है। इसलिए उनके पास पटाखे न छुड़ाएं। साथ ही जानवरों के साथ पटाखों से कोई खिलवाड़ न करें।
त्योहार पर गिफ्ट मिलना हमें कितनी खुशी देता है। लेकिन, दिवाली पर गिफ्ट देते समय प्लास्टिक बैग्स का इस्तेमाल न करें। इसके लिए हैंडमेड पेपर बैग्स का इस्तेमाल करें।
दिवाली खुशियों का त्योहार है। तो आपके पास जो चीज ज्यादा हो उसे किसी गरीब को देकर मदद करें। इससे उसके चेहरे पर भी स्माइल आएगी और आपको भी एक सुकून मिलेगा।
पटाखों को जलाते समय सावधानी रखें। साथ ही बच्चों को अपनी निगरानी में ही पटाखें छुड़ाने दें। अगर पटाखें की चिंगारी आंख में चली जाए तो उसे रगड़े नहीं, ठंडे पानी से धोएं और तुरंत डॉक्टर के पास ले जाएं।
दिवाली प्रकाश का त्योहार हैं तो जहां तक संभव हो कम शोर वाले पटाखे का इस्तेमाल करें। साथ ही कम पटाखे छुड़ाएं इससे पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचता है।
त्योहार पर बाजार में नकली सामान तेजी से बिकने लगता है। इसलिए नकली मावा या मिठाई से बचके रहें जहां तक पॉसिबल हो घर की बनी ही मिठाई का इस्तेमाल करें।