Tap to Read ➤

एवरेस्ट पर 26 साल से पड़ा ITBP जवान का शव, क्या है उसके जूतों का रहस्य

माउंट एवरेस्ट दुनिया का सबसे ऊंचा पर्वत है, जहां पर हर साल सैकड़ों लोग जाते हैं। वहां पर एक भारतीय जवान का शव भी 26 सालों से पड़ा है, जिसके ग्रीन बूट की दुनियाभर में चर्चा होती है।
ASHUTOSH TIWARI

एवरेस्ट की चोटी से तीन सौ मीटर नीचे एक शव है, जो ITBP जवान शेवांग पलजोर का है।

शेवांग 10 मई 1996 को माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई पर निकले थे, लेकिन वो बर्फीले तूफान की चपेट में आ गए।

उस हादसे में उनकी मौत हो गई और उनका शव आज भी एवरेस्ट पर पड़ा है।

जिस जगह पर शव है, वहां से उसे लाना असंभव है, ऐसे में कभी भी उसको लाने की कोशिश नहीं की गई।

भीषण ठंड की वजह से शव खराब भी नहीं हुआ। ऐसे में वो अभी भी पर्वतारोहियों को दिख जाता है।

पर्वतारोहियों के मुताबिक वो शव ऐसे पड़ा है, जैसे लगता है कि कोई थक के शो रहा। आप जान ही नहीं पाएंगे की वो लाश है।

शेवांग पलजोर ने उस वक्त ग्रीन जूते पहने थे, ऐसे में आज भी उनकी पहचान उसी से होती है।

एवरेस्ट जाने वाले पर्वतारोही वहां पर रुककर फोटो जरूर खींचवाते हैं।