Tap to Read ➤

क्यों मनाया जाता है इंटरनेशनल मेन्स डे? जानें पूरा इतिहास

दुनियाभर के कई देशों में हर साल 19 नवंबर को 'इंटरनेशनल मेन्स डे' मनाया जाता है। जानें इसे क्यों और किस वजह से मनाया जाता है?
Rahul Kumar
पुरुषों के मानसिक विकास, उनके सकारात्मक गुणों की सराहना और लैंगिग समानता के उद्देश्य से प्रतिवर्ष दुनियाभर में 'इंटरनेशनल मेन्स डे' मनाया जाता है।
अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस के मौके पर लड़कों और पुरुषों उनके योगदान के लिए सम्मानित किया जाता है।

भारत में पहली बार 2007 में 19 नवंबर को अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया गया।

1923 में कुछ पुरुषों ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की तर्ज पर 23 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाए जाने की मांग की थी।

19 नवंबर 1999 में त्रिनिदाद और टोबैगो के लोगों द्वारा पहली बार अंतरराष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया गया।

वेस्ट इंडीज विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ. जेरोम तिलक सिंह ने अपने पिता के जन्मदिन 19 नवंबर के दिन 'इंटरनेशनल मेन्स डे'मनाया था।

इस समय दुनियाभर के करीब 60 से अधिक देश अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाते हैं।

'इंटरनेशनल मेन्स डे'वास्तव में लैंगिक समानता और बेहतर लैंगिक संबंधों को बढ़ावा देने का एक अच्छा अवसर है।

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस 2022 की थीम 'पुरुषों और लड़कों की मदद करना' है।