Tap to Read ➤

भारतीय फौजियों को डाइट में क्‍या-क्‍या मिलता है?

भारतीय सैनिकों को हाई क्वालीफाइड डॉक्टरों द्वारा डाइट सजेस्ट की जाती है।
vishwanath saini
भारतीय सेना में डॉक्‍टरों द्वारा सजेस्‍ट की गई डाइट का हर फौजी शिद्दत पालन करता है।
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो नाश्ते में सैनिकों की पसंद के अनुसार उनके मूल स्थान का भोजन दिया जाता है।
सैनिकों को नाश्‍ते में
दो अंडे मिलते हैं।
लंच में चपाती, चावल, सब्जी, दाल आदि दिए जाते हैं।
डिनर में चपाती, दाल, वेज, चिकन मिलता है।
जो फौजी चिकन नहीं खाते उन्हें 400 मिलीलीटर दूध दिया जाता है।
जंग के मैदान में सैनिकों की डाइट काफी बदल जाती है।
जवान किसी जंग पर जाते है, तो उन्हें लंबे समय तक खराब ना होने वाला खाना दिया
जाता है।
जंग पर जाने वाले जवानों को एनर्जी बार भी दिया जाता है।
महीनों तक खराब नहीं होने वाली चपाती, मीट, गरम पानी में तैयार होने वाले फूड्स, पुलाव, हलवा आदि भी।
जंग के मैदान वाले इस राशन का वजन करीब 880 ग्राम होता है।
जंग लड़ने वाले फौजी को
यह भोजन 4100 कैलोरी दे सकता है।
एक सैनिक को दिन में चार बार चाय मिलती है।
सुबह 10:30 बजे चाय के ब्रेक पर कुछ नाश्ता मिलता है।
आर्मी के जवान एक बैलेंस डाइट का ध्यान रखते हैं।
फौजी कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा और विटामिन का संतुलित आहार खाते हैं।
कई मौके पर फौजियों के लिए मीठे पकवान भी बनाए
जाते हैं।