Tap to Read ➤

सोना असली है या नकली? मिनटों में करें खरे सोने की पहचान

आप जो सोना खरीद रहे हैं, वो असली है या नहीं, इसे लेकर अगर मन में शंका है तो इस तरीके से आप मिनटों में इसकी पहचान कर सकते हैं
सोना खरीदने से पहले उसकी शुद्धता जानना जरूरी है। सोने पर बनें हॉलमार्किंग के निशान को देखकर आप पता कर सकते हैं कि सोना खरा है या नहीं?
गोल्ड हॉलमार्किंग सोने की शुद्धता की गारंटी होती है, BIS हॉलमार्क देखकर आप निश्चित हो सकते हैं कि आपका सोना प्योर हैं, लेकिन ये देखना भी जरूरी है कि हॉलमार्क असली है या नकली?
असली हॉलमार्क में BIS का तिकोना निशान के साथ-साथ हॉलमार्किंग सेंटर के लोगो के साथ सोने की शुद्धता भी लिखी होती है।
BIS हॉलमार्क के अलावा सिरके से सोने की पहचान कर सकते हैं। घर में रखे विनेगर की कुछ बूंदे सोने की ज्वैलरी पर डाले, अगर उसका रंग बदलता है तो आपका सोना नकली है। अगर नहीं बदलता तो असली है
पानी की भरी बाल्टी में सोने का गहना अगर डूब जाए तो समझे कि सोना असली हैं, अगर थोड़ी देर भी तैरता रहे तो समझे कि सोने में मिलावट है।
इससे अलावा एसिड टेस्ट से आप सोने की शुद्धता जांच सकते हैं। सोने को थोड़ा सा खुरचकर उसपर नाइट्रिक एसिड की एक बूंड डाले।
अगर सोना नकली होगा तो वो हरा हो जाएगा, लेकिन असली सोने पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।
आप मैग्नेट टेस्ट भी कर सकते हैं। एक स्ट्रॉग चुंबक को सोने की ज्वैलरी के पास जाए, अगर वो थोड़ा सा भी चुंबक की ओर आकर्षित है तो समझे कि उसमें मिलावट है।
सोने की ठगी से बचने के लिए बेहतर हैं कि विश्वनीय ज्वैलर्स से ही सोना खरीदें। खरीदारी करते वक्त सोने की शुद्धता का प्रमाणपत्र और बिल जरूर लें।