Tap to Read ➤

कैसे Potassium Iodide न्यूक्लियर रेडिएशन से बचाता है ?

परमाणु हमले या परमाणु दुर्घटना की स्थिति में वातावरण में रेडियोऐक्टिव आयोडीन फैलने का खतरा होता है। इससे थायरॉयड ग्लैंड को नुकसान पहुंच सकता है।
अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल या सीडीसी के अनुसार पोटैशियम आयोडाइड एक स्टेबल आयोडीन नमक है।
स्टेबल आयोडीन नमक परमाणु रिसाव की स्थिति में फैलने वाले रेडियोऐक्टिव आयोडीन को थायरॉयड ग्लैंड में पहुंचने से रोकने में सहायता करता है।
थायरॉड ग्लैंड का रक्षक
थायरॉयड ग्लैंड इंसान के शरीर में कई तरह के हारमोन को कंट्रोल करता है। लेकिन, अगर इसमें रेडियोऐक्टिव आयोडीन पहुंच जाए तो कैंसर होने का भी खतरा रहता है।
थायरॉयड ग्लैंड खुद से स्टेबल आयोडीन और रेडियोऐक्टिव आयोडीन में अंतर नहीं कर सकता। उसका स्वभाव है कि वह दोनों को अवशोषित करेगा।
थायरॉयड ग्लैंड का स्वभाव
परमाणु रिसाव की स्थिति में स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श से ही पोटैशियम आयोडाइड की टैबलेट लेने की सलाह दी जाती है, जो कि रेडियोऐक्टिव आयोडीन से थायरॉयड की रक्षा करता है।
पोटैशियम आयोडाइड कब लें ?
पोटैशियम आयोडाइड की टैबलेट खाने के बाद यह 24 घंटे तक रेडियोऐक्टिव आयोडीन को थायरॉयड ग्लैंड में घुसने से रोक सकता है।
पोटैशियम आयोडाइड लेने की सलाह तभी दी जाती है, जब न्यूक्लियर रेडिएशन का खतरा निश्चित हो।
जब रेडिएशन का खतरा हो
पोटैशियम आयोडाइड की ओवरडोज से ज्यादा सुरक्षा नहीं मिलती, बल्कि इससे लोग गंभीर रूप से बीमार हो सकते हैं। मौत भी हो सकती है।
पोटैशियम आयोडाइड की टैबलेट स्वास्थ्य अधिकारियों के परामर्श से ही लेना चाहिए।
पोटैशियम आयोडाइड के साइड इफेक्ट्स में पेट या गैस्ट्रो-इंटेस्टाइनल परेशानी, एलर्जी, चकत्ते और लार ग्रंथियों में सूजन जैसी दिक्कतें शामिल हैं।
पोटैशियम आयोडाइड के साइड इफेक्ट्स
सही परामर्श के बाद एडवर्स हेल्थ इफेक्ट की आशंकाएं दुर्लभ हैं। यह थायरॉयड ग्लैंड से ही संबंधित हो सकती है।
एडवर्स हेल्थ इफेक्ट
यह उस व्यक्ति के साथ हो सकता है, जो परामर्श से ज्यादा डोज ले ले। कई दिनों तक डोज ले या फिर उसे पहले से थायरॉयड ग्लैंड से संबंधित कोई रोग हो।
खाने वाले आयोडाइज्ड नमक या आयोडीन की प्रचूरता वाले खाने में भी इतना आयोडीन नहीं होता, जो रेडियोऐक्टिव आयोडीन को थायरॉयड ग्लैंड में अवशोषित होने से रोक सके।
खाने वाले आयोडाइज्ड नमक या आयोडीन की अधिकता वाले खाने को पोटैशियम आयोडाइड के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए
खाने वाले नमक का इस्तेमाल न करें