Tap to Read ➤

ठेठ पंचलाइन से लाइमलाइट में आई ग्रेजुएट चायवाली प्रियंका

ग्रेजुएट चायवाली प्रियंका गुप्ता को इस वक्त कौन नहीं जानता. प्रियंका पटना वीमेंस कॉलेज के बाहर चाय का ठेला लगती है और अपनी पंच लाइन की वजह से सोशल मीडिया जगत में छाई हुई है.
24 साल की प्रियंका गुप्ता कोई आम चाय वाली नहीं हैं, बल्कि एक ग्रेजुएट चाय बेचने वाली हैं
प्रियंका गुप्ता चाय का ठेला लगाकर बहुत कम समय में मीडिया ही नहीं, सोशल मीडिया पर भी छा गई हैं
प्रियंका गुप्ता के लाइमलाइट में आने की मुख्य वजह है उनके चाय का स्टॉल लगाने का अंदाज
दरअसल, प्रियंका ने चाय स्टॉल पर बेहद ही ठेठ अंदाज में पंचलाइन लिखी है
'पीना ही पड़ेगा' और 'सोच मत...चालू कर दे बस', इन पंचलाइन की वजह ही वह अब सुर्खियों में छाई हुई है
प्रियंका के इस अंदाज की जमकर तारीफ हो रही, यही नहीं बड़ी संख्या में लोग उनके चाय की स्टॉल पर पहुंचते हैं।
आइए जानते है कौन है प्रियंका गुप्ता? ग्रेजुएशन के बावजूद उन्होंने चाय की दुकान क्यों लगाई?
प्रियंका गुप्ता मूल रूप से पूर्णिया जिले की रहने वाली हैं। लेकिन इन दिनों वह पटना वीमेंस कॉलेज के पास चाय की दुकान चला रही हैं।
प्रियंका की मानें तो वह करीब दो साल से बैंक की प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही हैं। लेकिन किसी परीक्षा में वह सफल नहीं हो पाईं।
हालांकि प्रियंका ने हार नहीं मानी और चाय का ठेला लगा कर रोजी-रोटी कमाने का फैसला कर लिया।
कई चायवाले हैं तो कोई चायवाली क्यों नहीं हो सकती? बस इसी के बाद मैंने टी स्टॉल शुरू किया
केवल सात से आठ दिनों में ही उनकी दुकान चल निकली है और अब वो अपनी दुकान को नई जगह पर विस्‍तार देने की योजना बनाने में भी जुट गई हैं।
लहंगे में Aamna Sharif ने दिखाई शोख अदाएं
See More