Tap to Read ➤

मां शारदा देवी धार्मिक स्थल | मैहर धाम यात्रा की संपूर्ण जानकारी

मैहर मंदिर हिंदुओ की धार्मिक आस्था में बहुत महत्व रखता है जिसके बारे में पौराणिक तथ्यों के अनुसार कहा जाता है कि यह स्थान भारत के प्रमुख शक्ति पीठों में से एक है
Rakesh kumar patel
मैहर मंदिर के मुख्य महंत बताते हैं कि अभी भी आल्हा ही देवी मां का पहला श्रृंगार करते हैं।
आल्हा और ऊदल बुंदेलखंड के महोबा के महान वीर योद्धा थे जो अपनी वीरता के लिए पूरे भारत में जाने जाते थे।
माता शारदा देवी, मैहर माता मंदिर में पूरे साल भर ही भारी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं लेकिन नवरात्रि के पर्व पर मां के दर्शन करने के लिए भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ता है।
मैहर रेलवे स्टेशन भारत के कई प्रमुख शहरों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है जिसमे मुंबई, दिल्ली, चेन्नई और हैदराबाद जैसे कई प्रमुख शहर शामिल हैं।
मैहर सड़क मार्ग द्वारा भारत के विभिन्न हिस्सों से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है जिससे आप सड़क मार्ग द्वारा आराम से मां शारदा के दर्शन करने मैहर जा सकते
मैहर में कोई भी एयरपोर्ट नही है लेकिन यहां से 105 किलोमीटर की दूरी पर स्थित खजुराहो हवाई अड्डा मैहर के सबसे नजदीक हवाई अड्डा है
इच्छापूर्ति मंदिर मैहर के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक है जो कि देवी दुर्गा को समर्पित है। इस मंदिर की नक्काशी बहुत ही खूबसूरत देखने लायक है जो पर्यटकों को बेहद आकर्षित करती है।
मैहर धाम मंदिर की यात्रा के लिए जाना चाहते हैं तो आपको आसपास कई सारे होटल मिल जाएंगे, जहां पर आप ठहर सकते हैं। इनके न्यूनतम चार्जेस 500 सौ रुपए से शुरू होते हैं।
रोपवे का समय सुबह 6.30 से शाम के 7 बजे तक का होता है जिसके लिए आप को कुछ चार्जेज देने होते हैं।
यह भी देखें