Tap to Read ➤

आतिशी: ऑक्सफोर्ड ग्रेजुएट जिन्होंने बदल दी दिल्ली के स्कूलों की सूरत

यूनाइटेड नेशंस में दिल्ली के गवर्नेंस मॉडल को पेश करने वाली आप विधायक आतिशी ने यहां के स्कूलों को बेहतर बनाने में बड़ा योगदान दिया है।
आप विधायक आतिशी यूनाइटेड नेशंस में दिल्ली के अरविंद केजरीवाल सरकार के गवर्नेंस मॉडल पर स्पीच देने की वजह से चर्चा में हैं।
आतिशी ने भाषण में कहा कि दिल्ली मॉडल ने राजकोषीय घाटा भी खत्म किया और शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी की सुविधा भी जनता को कम पैसे में दी।
आतिशी ने दिल्ली के स्कूल मॉडल का जिक्र करते हुए कहा कि प्राइवेट स्कूलों से बेहतर सरकारी स्कूलों का परफॉर्मेंस है।
दिल्ली के सरकारी स्कूलों के रिफॉर्म में आतिशी का भी बड़ा योगदान रहा है।
ऑक्सफोर्ड से पढ़ी आतिशी ने जो सूत्र दिए उसने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में शिक्षा का कायापलट कर दिया।
दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया के सलाहकार के तौर पर काम करते हुए आतिशी ने ये सूत्र दिए थे।
दिल्ली सरकार ने शिक्षा का बजट बढ़ाया और स्कूलों का इंफ्रास्ट्रक्चर ठीक किया। स्कूलों का रंग-रोगन, नए बेंच डेस्क, क्लासरूम सब बेहतर किया गया।
PTM पैरेंट्स टीचर्स मीटिंग्स की शुरुआत दिल्ली के सरकारी स्कूलों में हुई।
तीसरी से नौवीं क्लास तक के बच्चों के लिए मिशन बुनियाद जिसमें पढ़ाई में पिछड़े बच्चों के लिए तीन महीने का कोर्स चलाया गया।
दिल्ली के स्कूलों में हैप्पीनेस करीकुलम की शुरुआत हुई जिसमें बच्चों को खुश रहने की कला सिखाई जाने लगी।
टीचर डेवलपमेंट कोऑर्डिनेटर (TDC) प्रोग्राम के तहत पचास हजार शिक्षकों को शिक्षण को बेहतर बनाने में लगाया गया।
केजरीवाल सरकार ने इंग्लिश मीडियम स्कूलों की स्थापना शुरू की। इन सब सुधारों की नीतियां बनाने और लागू कराने में आतिशी ने भूमिका निभाई।
आतिशी का पूरा नाम वैसे आतिशी सिंह है लेकिन वो आतिशी मार्लेना के नाम से भी चर्चित रही हैं।
आतिशी के माता-पिता ने मार्क्स और लेनिन को जोड़कर बेटी का उपनाम मार्लेना रखा था। जिसे बाद में आतिशी ने हटा लिया।
फेसबुक ने दिया 1.6 करोड़ का पैकेज
अदिति