Tap to Read ➤

खर्राटों से परेशान हैं? अपनाएं ये 5 आसान उपाय

हर तीन से एक पुरुष और हर चार में एक महिला खर्राटे लेती हैं। जरा सोचिए पार्टनर पर क्या बीतती होगी।
बहुत सारे लोग सोते वक्त खर्राटे लेते हैं। खर्राटे लेने वालों को तो पता नहीं चलता लेकिन खर्राटे लेने वालों के साथ सोने वालों के लिए ये बहुत बुरा अनुभव हो सकता है।
अच्छी बात यह है कि दवाओं का उपयोग किए बिना कई सारे ऐसे उपाय है जिनसे खर्राटों का इलाज किया जा सकता है।
कई लोग ऐसे होते हैं जो पहले खर्राटे नहीं लेते थे लेकिन वजन बढ़ने के बाद यह शुरू हुआ है। ऐसे लोग के लिए कुछ वजन कम करना मददगार हो सकता है।
1- वजन कम करना
मोटे लोगों में गर्दन के क्षेत्र में अतिरिक्त ऊतक और वसा होता है, जो सांस लेने के रास्ते को छोटा कर देता है। अध्ययन बताते हैं कि वजन घटाने से खर्राटों को कम किया जा सकता है।
सोने की स्थिति खर्राटे का हमारे सोने की पोजीशन से भी संबंध है। जैसे जब आप पीठ के बल लेट जाते हैं तो खर्राटों के तेज होने की संभावना तेज हो जाती है।
2- सोने की पोजीशन
पीठ के बल लेटने पर हवा के रास्ते में आसपास के ऊतक गुरुत्वाकर्षण के चलते नीचे चले जाते हैं जिसके चलते यह संकरा हो जाता है।
नाक बंद होने की स्थिति में सांस के दौरान हवा बहुत तेज चलती है। इससे भी खर्राटे आते हैं। नाक साफ रखकर खर्राटों को रोका जा सकता है।
3- नाक साफ रखें
गर्म तेल की मालिश या नाक में तेल की बूंदें नाक में रुकावटें खोल सकते हैं। सोने के पहले गर्मपानी से स्नान भी फायदेमंद हो सकता है।
जब शरीर में पानी की कमी होती है तो नाक और तालु में चिपचिपा स्राव हो जाता है। यह सांस लेते समय हवा को बाधित कर सकता है जिसके चलते खर्राटे आ सकते हैं।
4- रहें हाइड्रेट
हाइड्रेट रहने के लिए पुरुषों को हर दिन कम से कम 3-4 लीटर पानी या तरल पदार्थ जबकि महिलाओं को रोजाना 2-3 लीटर तरल पदार्थ लेना चाहिए।
रिसर्च कहती है धूम्रपान करने वालों में एडिमा और ऊपरी वायुमार्ग की सूजन के कारण खर्राटे हो सकते हैं। धूम्रपान छोड़ने से खर्राटों की संभावना काफी कम हो सकती है।
5- धूम्रपान और शराब
शराब सांस के रास्ते की आसपास की मांसपेशियों को आराम देती है जिससे खर्राटे आने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए यह सलाह दी जाती है कि सोने से पहले शराब का सेवन न करें।
खर्राटे से छुटकारा पाने के लिए  इन टिप्स को अगर रोजाना आजमाया जाए तो सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं।
एलोवेरा के ये फायदे पता हैं?