By: Oneindia Hindi Video Team
Published : December 20, 2017, 05:33

योगी सरकार ला रही है नया कानून जिसे बताया जा रहा है मुस्लिम विरोधी

Subscribe to Oneindia Hindi

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जब से सत्ता में आई है तब से अपराध पर जीरो टॉलरेंस की बात कर रही है.. औऱ योगी सरकार अब इस बात को बिल में बदलने जा रही है.. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने संगठित अपराध पर नकेल कसने के लिए राज्य में यूपीकोका के रूप में सख्त कानून लाने का फैसला किया है. प्रस्तावित कानून के तहत अंडरवर्ल्ड, जबरन वसूली, जमीनों पर कब्जा, वेश्यावृत्ति, अपहरण, फिरौती, धमकी और तस्करी जैसे अपराधों को शामिल किया गया है. योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में यूपीकोका उत्तरप्रदेश कंट्रोल ऑफ आर्गेनाइज्ड क्राइम एक्ट बिल पेश किया. अब आप सोच रहे होंगे की ऐसा क्या है इस कानून में जो इसे मुस्लिम विरोधी या एक खास वर्ग के विरोध में बनाया गया है तो हम पहले आपको पूरा कानून बता देते हैं... यूपीकोका (उत्तरप्रदेश कंट्रोल ऑफ आर्गेनाइज्ड क्राइम एक्ट) के तहत संगठित रूप में होने वाले अपराध को निशाना बनाया जाएगा. इस कानून के तहत गिरफ़्तार व्यक्ति को 6 महीने से पहले ज़मानत नहीं मिले सकेगी. आरोपी की पुलिस रिमांड 30 दिन के लिए ली जा सकती है, जबकि बाकी क़ानूनों के तहत 15 दिन की रिमांड ही मिलती है. इसके अलावा अपराधी को पांच साल की सजा और अधिकतम फांसी की सजा का प्रावधान होगा.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल