By: Oneindia Hindi Video Team
Published : November 16, 2017, 01:00

बदहाली की शिकार महिला नहीं पहुंच सकी राशन लेने और भूख से तोड़ दिया दम

Subscribe to Oneindia Hindi

बरेली। बरेली में एक महिला की भूख से मौत का मामला सामने आया है, यहां के फतेहगंज पश्चिमी क्षेत्र के वॉर्ड 15 की पचास साल की सकीना के पास दो वक्त की रोटी के लिए अनाज तक नहीं था। दरअसल इनके बेटों ने बुजुर्ग दंपति को अलग कर रखा था और पति की बीमारी की वजह से इनके सारे पैसे और जेवर तक बिक गए थे। गरीबी की वजह से ये दंपति भुखमरी का शिकार हो गया। पति कई दिनों से राशन की दुकान के चक्कर लगा रहा था लेकिन हर बार उसे ठुकरा दिया जाता था। पीड़ित पति का कहना है कि राशन की दुकान पर उससे कहा जाता था कि वो अपनी पत्नी को लेकर आए तभी उसे राशन मिलेगा, जब तक वो अंगूठा नहीं लगाएगी राशन नहीं मिलेगा। ऐसा कहकर राशन डीलर ने राशन नहीं दिया। पति पत्नी के बीमार होने की वजह से उसे राशन की दुकान तक ले जाने में मजबूर था। पति इसहाक का आरोप है कि भुखमरी में सकीना की जान चली गई। मुहल्ले वाले गाहे-बगाहे उनकी मदद कर दिया करते थे लेकिन ये मदद भी उसकी जान नहीं बचा सकी। वहीं SDM मीरगंज ने बताया कि मामले की जांच कराई जा रही है।

Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल