By: Oneindia Hindi Video Team
Published : January 18, 2018, 05:25

UP में रिश्वत से परेशान सब इंस्पेक्टर ने दिया इस्तीफा

Subscribe to Oneindia Hindi

मथुरा। उत्तर प्रदेश पुलिस पर भ्रष्टाचार के आरोप आम बात है लेकिन मामला तब गंभीर हो जाता है जब ये आरोप खुद विभाग का एक एसआई लगा दे। मथुरा के मांट थाने पर तैनात एसआई अश्वनी कुमार ने एसएसपी मथुरा को भेजे इस्तीफ़े में विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार और अधिकारीयों द्वारा आमनवीय व्यवहार की परत खोली दी। ये इस्तीफ़ा एसआई ने विभाग से क्षुब्ध और व्याप्त भ्रष्टाचार के कारण दिया। मामला सामने आने के बाद एसआई तो मीडिया के सामने नहीं आया, लेकिन आला अधिकारी अब इस मामले पर कार्यवाही की बात कर रहे हैं।

2015 बैच के एसआई अश्वनी ने पत्र में लिखा है की विभाग में 30 सीएल (कैजुअल लीव) मिलते है लेकिन वास्तिवकता इससे बिल्कुल भिन्न है। अगर 30 दिन नहीं दिए जा सकते तो उनको कम कर दिया जाए। परन्तु जितनी छुट्टियां मिलती है कम से कम उतनी तो दी जाएं। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है कि अगर कोई उपनिरीक्षक तत्काल रूप चाहे तो वह छुट्टी पर नहीं जा सकता जो की आमनवीय व्यवहार है। एसआई अश्वनी कुमार ने लिखा कि मुझे नहीं लगता कि कोई व्यक्ति मात्र काम करने या देश सेवा के लिए पुलिस में भर्ती होता है। उनके अनुसार सबकी पारिवारिक जिम्मेदारियां भी होती हैं।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल