By: Oneindia Hindi Video Team
Published : December 16, 2017, 03:12

कांग्रेस अध्यक्ष बने राहुल गांधी के पास नहीं है खुद की कार

Subscribe to Oneindia Hindi

देश की सबसे पुरानी पार्टी की कमान आज राहुल गांधी के हाथों में सौंप दी गई... उन्हें केंद्रीय चुनाव प्रभार समिति के अध्यक्ष एम. रामचंद्रन ने सोनिया गांधी की मौजूदगी में सर्टिफिकेट सौंपा... इस मौके पर अकबर रोड स्थित पार्टी मुख्यालय के बाहर सुबह से ही समर्थकों का भारी जमावड़ा है दिखा...राहुल गांधी निर्विरोध रूप से कांग्रेस का अध्यक्ष चुने गए थे... अब तक राहुल की मां सोनिया गांधी पार्टी की अध्यक्ष थीं... उन्होंने 1998 में कांग्रेस की कमान संभाली थी.. लेकिन क्या आप जानते हैं की राहल गांधी बेकार हैं... बेकार का मतलब बिना कार से है.. दरअसल 2014 के आम चुनावों में राहुल ने अपने नामांकन पत्र के साथ एक हलफनामा दाखिल किया था... इसके मुताबिक उनकी कुल रियल एस्टेट संपत्ति का मूल्य 2009 में 4.4 करोड़ रुपये था, जो बढ़कर 8.2 करोड़ रुपये हो गया... इसमें करीब 86 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है... राहुल गांधी की जायदादों की संख्या में 2009 के बाद से कमी आई है, क्योंकि वह एक मॉल में अपनी दो दुकानें बेच चुके हैं और हरियाणा में एक और खेती से जुड़ी जमीन को भी निकाल चुके हैं... दिल्ली के सुल्तानपुर गांव में एक पैतृक फार्म में उनकी साझेदारी बरकरार है... हलफनामे के अनुसार उनकी दो दुकानों की बिक्री से हुई आमदनी को दो दफ्तरों पर खर्च किया गया। राहुल के पास अपनी कोई कार नहीं है और एसपीजी सुरक्षा प्राप्त होने के चलते उन्हें सुरक्षा कारणों से एसपीजी के वाहन में चलना होता है.. अब तो आप समझ गए होंगे की हम किस संदर्भ में आपसे कह रहे थे... खैर बड़ी खबर ये है की कांग्रेस की कमान अब राहुल गांधी के हाथ में है..

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल