By: Oneindia Hindi Video Team
Published : November 24, 2017, 12:29

छात्रा सिर पर स्कार्फ बांधकर आई तो प्रिंसिपल ने सुनाया तुगलकी फरमान

Subscribe to Oneindia Hindi

बाराबंकी। यूपी में बाराबंकी के एक स्कूल में वहाँ के प्रधानाचार्य ने अपना एक ऐसा तुगलकी फरमान सुनाया जो न तो किसी अभिभावक के गले उतर रहा है और न ही किसी आम नागरिक के । यहाँ एक अभिभावक ने अपनी लड़की को सर पर स्कार्फ बंधवा कर भेजा तो स्कूल प्रबंधन को इतना बुरा लगा कि अभिभावक को बच्चे को किसी इस्लामिक स्कूल में दाखिला करा देने का फरमान सुना दिया वह भी लिखित रूप में। स्कूल ने अभिभावक को अपनी ड्रेस कोड का हवाला देते हुए किसी भी प्रकार की छूट देने से इनकार करते हुए बेवजह प्रश्न न करने की हिदायत दी है।

सनसनीखेज मामला सामने आया है बाराबंकी के नगर कोतवाली इलाके के आनन्द भवन स्कूल का। आनन्द भवन स्कूल मूलतः ईसाई मिशनरी स्कूल के रूप में विख्यात है । यहाँ सभी धर्मों को मानने वाले अभिभावकों के बच्चे पठन -पाठन का कार्य करते हैं । इस स्कूल में अपनी लड़की को पढ़ाने वाले मौलाना मोहम्मद रज़ा रिजवी ने एक दिन लड़की को सर पर स्कार्फ बाँध कर भेज दिया था तो विद्यालय प्रबन्धन ने इस स्कार्फ पर एतराज किया और दोबारा स्कार्फ न बाँध कर न आने के लिए कहा। इस पर पत्राचार करते हुए स्कूल प्रबंधन ने हिदायत दी है कि भविष्य में इस मुद्दे पर पत्राचार न करें और अगर कोई समस्या है तो अपनी लड़की का दाखिला किसी इस्लामिक स्कूल में करवा दें।

Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल