By: Oneindia Hindi Video Team
Published : January 25, 2018, 04:38

कानपुर में पद्मावत को लेकर क्षत्रिय संगठनों का प्रदर्शन, फिल्म नहीं हुई रिलीज

Subscribe to Oneindia Hindi

कानपुर। सुप्रीम कोर्ट द्वारा पद्मावत फिल्म रिलीज करने के आदेश होने के बावजूद कानपुर में पीवीआर के मालिक ने बवाल होने की आशंका के चलते फिल्म को रिलीज नहीं किया। हलांकि पुलिस प्रशासन ने किसी भी तरह से आरजकता न हो इसके लिए 24 जनवरी से ही कमर कस ली थी। सभी मॉल और लगभग सभी सिनेमाघरों के बाहर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। इसके बाद भी पीवीआर के मालिक ने फिल्म 25 जनवरी को रिलीज न करने का फैसला लिया।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में फिल्म पद्मावत की रिलीज के खिलाफ क्षत्रिय समाज ने प्रदर्शन किया। गजेंद्र सिंह राजावत ने शासन-प्रशासन को चेतावनी दे डाली कि हमें लॉ एंड ऑर्डर तोड़ने पर मजबूर ना करे, सिनेमाघर अगर फिल्म रिलीज करते हैं तो उन्हे गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

कानपुर के काकादेव के सर्वोदय नगर इलाके में स्थित एक मॉल मल्टीप्लेक्स में भी करणी सेना के करीब एक दर्जन सदस्यों ने संजय लीला भंसाली की 25 जनवरी को रिलीज होने वाली फिल्म `पद्मावत` के खिलाफ प्रदर्शन किया। काकादेव के थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह ने बताया कि करणी सेना के सदस्यों ने फिल्म के पोस्टर फाड़ दिये, शीशे तोड़े और वहां मल्टीप्लेक्स के कर्मचारियों के साथ अभद्रता की।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल