By: Oneindia Hindi Video Team
Published : February 06, 2018, 05:12

यूपी बोर्ड परीक्षा देने आई छात्रा के पेट में दर्द, नहीं मिला समय पर इलाज, छूटी परीक्षा

Subscribe to Oneindia Hindi

अमेठी। यूपी में अमेठी कोतवाली के रामनगर गांव निवासी भवानी प्रसाद बारी की पुत्री कंचन बारी मंगलवार को यूपी बोर्ड की पहली परीक्षा देने राजकीय बालिका विद्यालय पहुंची थी कि एकाएक उसकी तबियत बिगड़ गई। स्कूल प्रशासन ने डॉक्टरों को सूचना न देकर दवाई की एक गोली छात्रा को देकर उसे किनारे लिटा दिया और वो दर्द से कराहती रही।

एएसपी ने स्कूल प्रशासन को लगाई फटकार
करीब 10 बजे अमेठी के एएसपी बीसी दुबे स्कूल में औचक निरीक्षण को पहुंच गये। परीक्षा केंद्र का जायजा लेते हुए वो स्कूल कैंपस के परीक्षा रूम में पहुंच गये। इस दौरान उनकी निगाह छात्रा कंचन पर पड़ी तो उन्होंने स्कूल प्रशासन से छात्रा के इस तरह लेटे होने का कारण पूछा। जो जवाब मिला उससे एएसपी गुस्सा उठे, उन्होंने स्कूल प्रशासन को जमकर फटकार लगाई और फिर आनन-फानन में छात्रा को एसएचओ अमेठी की जीप से हॉस्पिटल पहुंचवाया।

स्कूल प्रशासन की लापरवाही से छात्रा का पेपर छूटा
एएसपी ने बताया कि स्कूल प्रशासन की लापरवाही से छात्रा कंचन का पेपर छूट गया। अगर स्कूल प्रशासन तत्काल उच्च अधिकारियों को जानकारी दे देता तो सीएमओ आदि से बात कर डॉक्टर की व्यवस्था कराई जाती तो छात्रा का पेपर नहीं छूटता।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल