By: Oneindia Hindi Video Team
Published : January 23, 2018, 05:04

किन्नरों ने कन्नौज में बेटियों को बचाने और पढ़ाने का उठाया जिम्मा

Subscribe to Oneindia Hindi


कन्नौज। यूपी में कन्नौज के छिबरामऊ गोविंद गेस्ट हाउस में अखिल भारतीय मंगलामुखी सम्मेलन का आयोजन हुआ। इस मौके पर कई जनपदों के किन्नर कार्यक्रम में शामिल हुए। किन्नर समुदाय का कहना था कि वो गोद ली हुयी बेटी की पढ़ाई-लिखाई के साथ उसकी शादी का पूरा खर्चा उठाएंगे। कई किन्नरों ने बेटियों को गोद ले रखा है जबकि कई गरीब बेटियों की शादियों का भी पूरा खर्चा भी उठाया है। समाज को सन्देश देते हुए कहा कि बेटी को अभिशाप मानकर उनकी कोख में ही हत्या न करें। बेटी को बुरी नजर से देखना बंद होना चाहिए।

किन्नर सम्मलेन में आये किन्नरों ने समाज को संदेश देते हुए कहा कि अगर यदि भारत में बेटियों को अभिशाप मानकर उनकी हत्या किए जाने का यह क्रम नहीं थमा तो आगे चलकर हमारा देश कमजोर हो जाएगा उन्होंने बेटियों को भारत की ताकत बताते हुए कहा कि वह बेटियों को गोद लेने का अभियान चला रही हैं।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल