By : Oneindia Hindi Video Team
Published : January 09, 2018, 06:43

मध्य प्रदेश के इस स्कूल में मिलता है खाने को रोटी नमक और पीने को नहर का पानी

कहानी बनाएं या जोड़े उससे पहले तस्वीरों को देखिए फिर सरकार पर सवाल उठाने लगिएगा.... बच्चे खुले में पेड़ के नीचे बैठ कर पढ़ रहे हैं.. खाने की थाली में मिड डे मील के नाम पर रोटी और नमक है तो पीने के लिए नहर का पानी... खबरों की तस्दीक करें तो आपको बता दें की ये स्कूल मध्यप्रदेश के छतरपुर में चल रहा है... यहां दिन का उजाला जरूर है लेकिन भविष्य अंधकारमय दिखेगा और जिस थाली से सरकार बच्चों के मासूम पेट को भरना चाहती थी उस थाली में बस आयोडीन के साथ रोटी बरबस परोसी जाय तो स्कूल का हाल ये मासूम ही बता रही हैं... बच्चों के भविष्य में से बच्चों से तो उनकी बात सुन ली अब जरा भविष्य सवारने वाले उस मंत्री जी से भी सुनना चाहिए लेकिन सुनने की जरूरत नहीं जवाब वही पुराना है जांच हो रही है... विभाग काम कर रहा है.. शिवराज सिंह के इस राज में भविष्य किस ओर जा रहा है वो इस एक तस्वीर को देखकर तो नहीं कह सकते लेकिन इतना जरूर कह सकते हैं कि इस स्कूल को देखो सरकार...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल