By : Oneindia Hindi Video Team
Published : January 17, 2018, 05:49

योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री के समधी की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा

मथुरा। 13 जनवरी को थाना छाता क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुई कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण के समधी सरवन प्रधान की हत्या वर्चस्व को लेकर उपजी रंजिश के कारण हुई थी । 1991 से लेकर अब तक इस मामले में 5 हत्याएं हो चुकी है। यह खुलासा मथुरा के एसएसपी ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया।

पुलिस ने मंगलवार को हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किये गए आरोपी अशोक को मीडिया के सामने पेश करते हुए कहा कि इसने ये हत्या 10 लाख रुपये की सुपारी लेकर की थी। इसके लिए 2 महिने पहले इस वारदात को अंजाम देने के लिए रूपरेखा तैयार की गई।

इस वारदात में नामजद आरोपी कर्मवीर ने डेढ़ महिने पहले 50 हजार रुपये बतौर एडवांस खुद के जेल जाने से पहले कचहरी पर अशोक को दिए थे। इसके बाद कर्मवीर एक पुराने मामले में जेल चला गया और बाहर रह गए राधाचरण और उसके बेटों ने मिलकर सरवन प्रधान की हत्या करने की साजिश रची। राधाचरण ने अशोक के साथ मिलकर 13 जनवरी को देर शाम सरवन की गोली मारकर हत्या कर दी।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल