By : Oneindia Hindi Video Team
Published : January 03, 2018, 06:30

अनूठी पहल: रोटी और ब्लड बैंक के बाद अब खुला 'अस्थि कलश बैंक', ऐसे करेंगा काम

रोटी बैंक, ब्लड बैंक व मुद्रा बैंक का नाम तो आपने सुना ही होगा लेकिन अस्थि कलश बैंक के बारे में बहुत कम लोग ही जानते होंगे। जी हां कानपुर में गंगा तट बने मोक्ष धाम पर एक समाजसेवी ने अस्थि कलश बैंक बनाया है | इस बैंक में पुरखो की अस्थिया जमा की जाती है और बाकायदा उनको एक कार्ड भी दिया जाता है जिसपर नाम पता व लाकर नबर लिखा होता है | अस्थि कलश रखने वाले लोगो को तय समय पर बैंक से अस्थिया निकालकर पवित्र नदियों में विसर्जित करना होता है अगर वह समय पर अस्थियो को बैंक से नहीं निकालते है तो उनका भूमि विसर्जन संस्था द्धारा किया जाता है।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल