By : Oneindia Hindi Video Team
Published : January 03, 2018, 11:59

भीमा कोरेगांव की लड़ाई की पूरी कहानी तो जान लीजिए

महाराष्ट्र के पुणे के भीमा कोरेगांव में भड़की हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है... लेकिन क्या आपको पता है की इस लड़ाई के पीछे का इतिहास क्या है.. क्यों दलित इसे शौर्य दिवस के तौर पर मनाते हैं ... दरअसल ये कहानी आज से 200 साल पहले की है.. जब अंग्रेजों के साथ मिलकर महार जाती के सैनिकों ने पेशवा को युद्ध में हरा दिया था... कहा जाता है की महार के सिर्फ 500 सैनिकों ने पेशवा के बीस हजार सैनिकों को धूल चटा दी थी... इस युद्ध में महार जाती जीत को ही शौर्य दिवस के तौर पर मनाती है...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल