By: Oneindia Hindi Video Team
Published : January 12, 2018, 10:51

मौत का बिल '18 लाख'

Subscribe to Oneindia Hindi

एक और अस्पताल की बेहुदगी सामने आई है। प्राइवेट अस्‍पतालों द्वारा इलाज में लापरवाही और फिर भारी-भरकम बिल थमा देने के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। पहले गुड़गांव का फोर्टिस हॉस्‍पिटल और अब फरीदाबाद एशियन हॉस्‍पिटल में ऐसा ही मामला सामने आया है। एक गर्भवती महिला को बुखार होने पर यहां एडमिट कराया गया था। महिला का इलाज 22 दिनों तक चला और फिर उसकी मौत हो गई। इतना ही नहीं उसके गर्भ में पल रहे शिशु जो कि 7 माह की प्रेगनेट बच्चे को भी नहीं बचाया जा सका। मौत के बाद अस्‍पताल की तरफ से परिजनों को 18 लाख रुपए का बिल थमा दिया गया।

Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल