By : Oneindia Hindi Video Team
Published : December 26, 2017, 10:05

पुलिस चौकी में दरोगा ने पीटा तो महिला ने गाड़ी को तोड़कर लगा दी आग

कानपुर। यूपी में कानपुर के घाटमपुर के रेवना चौकी इंचार्ज ने अपनी खाकी का रौब दिखाते हुए मानवता और इंसानियत की सभी हदें पार कर खाकी पर कई सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं। जानकारी के मुताबिक, दिबियापुर की रहने वाली शिखा जब रेवना चौकी इंचार्ज के पास अपनी समस्या लेकर पहुंची। तभी थोड़ी देर बाद दोनों में काफी कहासुनी होने लगी।

कहासुनी होते-होते चौकी इंचार्ज सूर्य प्रताप इतने ज्यादा आवेश में आ गए कि सूर्यप्रताप ने अपनी सभी मर्यादाओं को दरकिनार कर शिखा को बाल पकड़कर लात-घूसों से मारना शुरू कर दिया। इसके चलते शिखा एकदम बेहाल हो गई जिसके चलते आसपास के स्थानीय लोगों का जमावड़ा लगना शुरू हो गया।

शिखा ने चौकी में ही खड़ी चौकी इंचार्ज की गाड़ी को कुल्हाड़ी से तोड़ कर तेल डाल कर आग के हवाले कर दिया। शिखा की मानें तो सूर्यप्रताप काफी समय से शिखा और उसकी बेटी का शारीरिक शोषण कर रहा था जिसके चलते वह सूर्य प्रताप से इसका विरोध करने चौकी आई थी। चौकी के सिपाहियों ने जब इसकी सूचना आलाधिकारियों को दी तो वे मौके पर पहुंचे। आलाधिकारियों ने मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करने की बात कही है।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल