By : Oneindia Hindi Video Team
Published : April 10, 2018, 06:29

ब्रेन कैंसर से पीड़ित पूर्व फौजी की हालत खराब, बीवीबेटी को पुलिस कर रही परेशान

फर्रुखाबाद। उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जनपद के कोतवाली फतेहगढ़ क्षेत्र के मोहल्ला शीशम बाग निवासी पूर्व सैनिक गोपाल सिंह का है। गोपाल सिंह ने अपनी बड़ी बेटी काजल की शादी 2013 में थाना कमालगंज के खुदागंज कैता ग्राम में बड़ी धूमधाम से की। बेटी ससुराल चली गयी और सैनिक रहे गोपाल सिंह को पिछले छह महीने पहले ब्रेन कैंसर होने से गोपाल सिंह की हालत दिन ब दिन बिगड़ती चली गयी।

घर में केवल मां व छोटे भाई होने के चलते काजल की मां ने अपनी बेटी को अपने पास बुला लिया। गोपाल सिंह का दामाद भूपेंद्र सिंह उनकी बेटी को उनके घर छोड़ कर दिल्ली में अपनी नौकरी करने चला गया लेकिन 15 दिनों के बाद युवक का मोबाइल बंद हो गया और परिजनों ने कई दिनों तक इन्तजार किया। युवक की कोई खोज-खबर नहीं मिली। दामाद भूपेंद्र की जब कोई खबर नहीं मिली तो भूपेंद्र के परिजन पूर्व सैनिक गोपाल सिंह के घर आये और उनके बेटे को गायब करने की बात करने ले।

पति के गायब होने से परेशान काजल ने अपने ससुर और परिजनों को लाख समझाया की हम लोग भी उनकी जानकारी करने में जुटे हैं लेकिन कुछ पता नहीं चल रहा है। कई दिन बीत जाने के बाद युवक भूपेंद्र के पिता राज पाल ने कोतवाली फतेहगढ़ में भूपेंद्र के गायब कराने की रिपोर्ट दर्ज करा दी। रिपोर्ट दर्ज होते ही पुलिस ने बीमार पड़े पूर्व फौजी के घर पर आकर मामले की जानकारी जुटाने का काम तो शुरू किया लेकिन पुलिस फौजी की पत्नी और बेटी काजल से लगातार आये दिन परेशान भी करती है।

पुलिस कार्रवाई से पीड़ित मां और बेटी एसपी दफ्तर पहुंची और मामले की जानकारी एसपी को दी। मामले पर एसपी मृगेन्द्र सिंह ने महिला को न्याय दिलाने की बात तो कही लेकिन कोई ठोस कार्रवाई नहीं की। इस मामले में अब हाल ये है कि एक तरफ इस केस के चलते हुए मानसिक तनावों वजह से ब्रेन कैंसर पीड़ित फोजी की हालत बिगड़ती जा रही है और दूसरी तरफ पत्नी व बेटी अधिकारियों के चक्कर लगा रही है।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल