By : Oneindia Hindi Video Team
Published : January 22, 2018, 10:25

निजी स्कूल में तीसरी क्लास के छात्र पर टीचर का जुल्म, हुआ मानसिक रूप से बीमार


कानपुर। यूपी में कानपुर के एक नामचीन स्कूल में टीचर ने होमवर्क न करने पर तीसरी कक्षा के एक छात्र को उसके सहपाठियों से चालीस थप्पड़ लगवाये। साथियों से पिटने का दंड को पाने के बाद बच्चा डर से बीमार पड़ गया है। इस घटना के बाद से अभिभावकों में रोष है। आरोप यह भी है कि इसी टीचर ने कुछ दिन पहले छात्र को भीषण ठंड में नंगा होने का दंड दिया था और इतना ही नहीं, उसकी यूनीफार्म कक्षा के दूसरे छात्रों से उतरवायी थी।

नन्हा युवराज स्कूल का नाम आते ही कम्बल में मुंह छिपाने लगता है। उसके दिमाग में टीचर का खौफ इस कदर भर गया है कि अब आगे पढ़ाने के लिये माता-पिता को उसका मनोवैज्ञानिक इलाज कराना पड़ेगा। मीडिया के सामने मामला आने के बाद आरोपी शिक्षिका ने सफाई दी है कि युवराज एक बेहद अनुशासनहीन बच्चा था इसलिये उसे उसके साथियों से थप्पड़ लगवाने की सजा दी गयी थी।

चेहरे पर पछतावे का कोई भाव लिए बिना टीचर ने कहा कि अभिभावक बेवजह मामले को तूल दे रहे हैं क्योंकि बच्चे को चालीस नहीं केवल दो छात्रों ने हल्के थप्पड़ लगाये थे। मोटी फीस वसूलकर भी बच्चों को नारकीय सजा देने वाली इस घटना से अभिभावक बेहद गुस्से में हैं। उनकी शिकायत पर आरोपी टीचर को नौकरी से निकाल दिया गया है।

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

सबसे पहले और ताज़ा खबरों के लिए सब्सक्राइब कीजिये वनइंडिया हिंदी यूट्यूब चैनल