• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Maghi Ganesh Jayanti 2021: शुभ मुहूर्त में इन मंत्रों से कीजिए बप्पा की पूजा, मिलेगी हर खुशी

By पं. ज्ञानेंद्र शास्त्री
|

Maghi Ganesh Jayanti 2021: माघ माह में मनाए जाने वाली गणेश चतुर्थी को माघी गणेश चतुर्थी या माघी गणेश जयंती भी कहते हैं। आपको बता दें कि गणेश भगवान बेहद मोहिल, बुद्दिमान और ऊर्जवान माने जाते हैं और इसी वजह से इनकी पूजा करने वालों को भी ये गुण हासिल होते हैं।

Maghi Ganesh Jayanti 2021: इन मंत्रों से कीजिए बप्पा की पूजा

पूजा का शुभ मुहूर्त

  • गणेश चतुर्थी- 15 फरवरी 2021
  • चतुर्थी तिथि 15 फरवरी को दोपहर 2 बजे से 16 फरवरी को 3 बजकर 35 मिनट तक रहेगी

आज इन मंत्रों से कीजिए गणपति की पूजा

भगवान गणेश बेहद ही मोहक हैं और अपने भक्तों की हर पुकार सुनते हैं, आप आज निम्मलिखित मंत्रों के जरिए उन्हें प्रसन्न कर सकते हैं। इन मंत्रों का जाप करने से बप्पा आपकी हर मनोकामना पूरा कर देंगे।

  • ॐ एकदन्ताय विद्महे वक्रतुंडाय धीमहि तन्नो बुदि्ध प्रचोदयात।।
  • ॐ ग्लौम गौरी पुत्र, वक्रतुंड, गणपति गुरू गणेश।
  • ग्लौम गणपति, ऋद्धि पति, सिद्धि पति। करों दूर क्लेश।।
  • ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा।

कुछ खास बातें

  • भगवान गणेश को भगवान शिव और माता पार्वती की दूसरी संतान मानी जाती है।
  • हाथी जैसा मुंह होने की वजह से इनका नाम 'गजानन' है।
  • भारत में जो संप्रदाय केवल भगवान गणेश की पूजा करता है उन्हें 'गाणपतेय संप्रदाय' कहा जाता है, जो कि मुख्य रूप से महाराष्ट्र में पाए जाते हैं।
  • गणेश जी लंबी हाथी जैसी सूंड महाबुद्धित्व का प्रतीक है।
  • शिवमानस शास्त्र में गणेश जी प्रणव (ॐ) कहा गया है। जिसमें ऊपर वाला भाग गणेश का मस्तक, नीचे का भाग उदर, चंद्रबिंदु लड्डू और मात्रा सूंड है।
  • कुछ धार्मिक ग्रंथों में कहा गया है कि गणेश की एक बहन भी थीं जिनका नाम अशोक सुंदरी था।

अपनों को भेजे ये बधाई संदेश

  • गणेश जी का रूप निराला है, चेहरा भी कितना भोला-भाला है, जिसे भी आती है कोई मुसीबत, उसे इन्ही ने तो संभाला है।
  • हर शुभ कार्य में पहले पूजा तेरी, तुम बिना काम ना सरे अरज सुन मेरी, रिध सिध को लेकर करो भवन में फेरी, करो ऐसी कृपा नित करूं मैं पूजा तेरी।
  • गणेश जी की ज्योति से नूर मिलता है, सबके दिलों को सुरूर मिलता है, जो भी जाता है गणेश जी के द्वार, कुछ ना कुछ जरूर मिलता है।
  • आते बड़ी धूम से गणपति जी,जाते बड़ी धूम से गणपति जी, आखिर सबसे पहले आकर, हमारे दिलों में बस जाते है गणपति जी।
  • धरती पर बारिश की बूंद बरसे, आपके ऊपर अपनों का प्यार बरसे, गणेशजी से बस यही दुआ है, आप ख़ुशी के लिए नहीं, खुशी आप के लिए तरसे।

यह पढ़ें: Basant Panchami 2021: कौन हैं ज्ञान, शक्ति और कला की देवी मां सरस्वती?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Maghi Ganesh Jayanti, its really auspicious, here is Puja Vidhi, Shub Muhurat and Mantra.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X