• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लॉकडाउन के बाद से बढ़ा हनुमान चालीसा का ऑनलाइन सर्च, टूटे सभी रिकॉर्ड

|

नई दिल्ली: पूरी दुनिया में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। भारत में भी इसका कहर बढ़ता जा रहा है, जहां अब तक 37 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। कोरोना के कहर को रोकने के लिए भारत में 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के बाद से ही लॉकडाउन जारी है, जिस वजह से लोग घरों में कैद हैं। सरकार ने धार्मिक स्थलों को भी बंद कर दिया है। ऐसे में लोग घरों में ही पूजा-पाठ कर रहे हैं। वहीं लॉकडाउन के ऐलान के बाद से ही गूगल और यूट्यूब पर हनुमान चालीसा का सर्च बढ़ गया है।

गूगल पर बढ़ा हनुमान चालीसा का सर्च

गूगल पर बढ़ा हनुमान चालीसा का सर्च

गूगल लगातार ऑनलाइन सर्च की मॉनिटरिंग करता है। गूगल की मॉनिटरिंग साइट गूगल ट्रेंड पर नजर डालें तो हनुमान चालीसा को लेकर सर्च रिलज्ट हैरान करने वाले हैं। पिछले 12 महीनों के आंकड़ों को देखने पर हमने पाया कि 21 मार्च 2020 तक हनुमान चालीसा का सर्च सामान्य था, लेकिन लॉकडाउन के ऐलान के बाद 24 मार्च से हनुमान चालीसा के सर्च में तेज से बढ़ोतरी हुई है। जिसे नीचे दिए ग्राफ में आप देख सकते हैं। गूगल सर्च की रेटिंग 0 से 100 के बीच करता है। वहीं 5 से 11 अप्रैल के बीच में हनुमान चालीसा के सर्च ने गूगल ट्रेंड पर टॉप आंकड़े 100 को छू लिया। गूगल ट्रेंड यूट्यूब के भी सर्च की मॉनिटरिंग करता है। वहां पर भी नजर डालने पर हमने पाया कि 22 मार्च से 11 अप्रैल तक हनुमान चालीसा की सर्चिंग काफी बढ़ी है। वहीं टी-सीरिज के अधिकारिक यूट्यूब अकाउंट पर हनुमान चालीस के 961 मिलीयन व्यू हैं।

8 अप्रैल को थी हनुमान जयंती

8 अप्रैल को थी हनुमान जयंती

हिंदू धर्म में हनुमान जी को कलयुग के सबसे प्रभावशाली देवताओं में से एक माना जाता है। जिनकी जयंती चैत्र माह की पूर्णिमा को मनाई जाती है। इस साल हनुमान जयंती 8 अप्रैल को थी। आमतौर पर हनुमान जयंती पर मंदिरों में खासी भीड़ देखने को मिलती है और जगह-जगह भंडारे का आयोजन होता है, लेकिन इस साल लॉकडाउन की वजह से मंदिर भी बंद थे। साथ ही लोगों के सामूहिक रूप से इकट्ठा होने पर भी रोक लगी है। जिस वजह से लोगों ने घरों में रहकर ही पूजा की। इस दिन भी हनुमान चालीसा को काफी सर्च किया गया था।

हनुमान चालीसा का पाठ करने से कई फायदे

हनुमान चालीसा में कोई मंत्र नहीं रहता है, इसकी चौपाइयों में ही लोगों की समस्या का समाधान है। कहा जाता है कि अगर आप रोजाना नहाने के बाद हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं, तो आपको नई ऊर्जा का एहसास होता है, साथ ही जिंदगी के दुख दूर होते हैं। डर लगने पर इंसान हनुमान चालीस पढ़कर निडर हो जाता है। शास्त्रों के अनुसार अगर आप किसी रोग का निदान चाहते हैं, तो आपको हनुमान चालीसा की चौपाई का पाठ करना चाहिए। इसके पाठ से नकरात्मक शक्तियां भी दूर होती हैं और सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। वहीं जो इंसान हनुमान चालीसा का पाठ नियमित रूप से करता है, उसके परम धाम जाने का मार्ग सरल हो जाता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hanuman Chalisa online search increased after lockdown
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X