• search
keyboard_backspace

योगी सरकार बच्चों को पढ़ाई के साथ सिखा रही है खुशी का पाठ, 350 से अधिक परिषदीय विद्यालय बने हैप्पी स्कूल

By Oneindia Staff

लखनऊ। प्रदेश की योगी सरकार ने देश की टॉप कंपनियों के सहयोग से यूपी के प्राथमिक व उच्‍च प्राथमिक विद्यालयों की तस्‍वीर बदलना शुरू कर दी है। सरकार ने एचसीएल के सहयोग से यूपी 517 परिषदीय विद्यालयों को हैप्‍पी स्‍कूल में तब्‍दील कर दिया है। इन स्‍कूलों में बच्‍चों को पढ़ाई के साथ-साथ खुश रहने का पाठ भी पढ़ाया जाता है। इसमें हरदोई के 350 स्‍कूल हैप्‍पी स्‍कूल में बदल चुके हैं जबकि सोनभद्र, श्रावस्‍ती समेत कई जिलों में हैप्‍पी स्‍कूल के कांस्‍पेट पर काम शुरू हो चुका है।

Yogi govt teaching children learning and happiness

एचसीएल के आपरेशन हेड योगेश कुमार के मुताबिक मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के यूपी की कमान संभालने के बाद एचसीएल ने परिषदीय स्‍कूलों को हैप्‍पी स्‍कूल बनाने के लिए एक समझौता किया था। इसके बाद हरदोई जिले से इसकी शुरूआत की गई। हरदोई के सभी 517 प्राथमिक व उच्‍च प्राथमिक विद्यालयों को हैप्‍पी स्‍कूल में तब्‍दील करने काम शुरू हो चुका है। एचसीएल की कीर्ति करमचंदानी बताती है कि अब तक 350 स्‍कूलों को हैप्‍पी स्‍कूल बनाया जा चुका है। स्‍कूल के अंदर बच्‍चों के खेलकूद, पढ़ाई के साथ खुश रहने की हर चीज मौजूद है।

तैयार किया अपना कंटेंट
कीर्ति बताती हैं कि प्राथमिक विद्यालयों में कक्षा एक व दो के लिए छात्रों के लिए आईटीसी पाठयक्रम तैयार कराया। यह कंटेंट पूरी तरह से एनिमेटेड था। स्‍कूल में पढ़ाने के लिए माध्‍यमिक शिक्षा परिषद से इसका अनुमोदन भी लिया गया। इसमें बच्‍चों के हैप्‍पीनेस से जुड़ हुए विषय भी शामिल किए गए। उन्‍होंने बताया कि अब कक्षा 5 तक के छात्रों के लिए कंटेंट तैयार किया जा रहा है। इसका अनुमोदन भी बोर्ड से लिया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि हैप्‍पी स्‍कूल में बच्‍चों के व्यक्तिगत विकास के साथ दिमागी तौर पर स्पष्टता और एकाग्रता बढ़ाने का काम किया जाता है। हैप्‍पी स्‍कूल में बच्‍चों को क्रिटिकल थिंकिंग उत्‍सुकता , बेहतर संवाद के साथ तनाव दूर रखने और तमाम तरह के हालात से निपटने के बारे में पढ़ाया जाता है।

दूसरे जिले ले रहे हैं सुझाव
कीर्ति बताती है कि यूपी के अन्‍य जिले भी अपने परिषदीय विद्यालयों का हैप्‍पी स्‍कूल बनाने में उनके सुझाव ले रहे हैं। श्रावस्‍ती, सोनभद्र व शामली समेत कई जिलों के जिलाधिकारियों ने उनसे हैप्‍पी स्‍कूल में पढ़ाया जाने वाला कंटेंट व सुझाव उनसे मांगे थे। जो उनको उपलब्‍ध करा दिए गए हैं। इसके अलावा उनको तकनीकी सहायता भी देने का काम किया जा रहा है। उन्‍होंने बताया कि हैप्‍पी स्‍कूल को एक मॉडल के रूप में तैयार किया गया है।

सीएम योगी ने की अपील- अगर घर पर हो सकते हैं आइसोलेट तो अस्पतालों में न करें भीड़सीएम योगी ने की अपील- अगर घर पर हो सकते हैं आइसोलेट तो अस्पतालों में न करें भीड़

English summary
Yogi govt teaching children learning and happiness
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X