• search
keyboard_backspace

यूपी: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद ही लगेगा 45 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीका, योगी सरकार का आदेश

By Oneindia Staff

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच देश में वैक्सीनेशन अभियान तेजी से चल रहा है। उत्तर प्रदेश में भी 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा रही है। ऐसे में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने फैसला किया है कि 45 साल से अधिक के लोगों को वैक्सीन की पहली डोज अब ऑनलाइन पंजीकरण के बाद ही लगेगी। यानी सेंटर पर रजिस्ट्रेशन नहीं होगा। नई व्यवस्था 10 मई से लागू होगी। यानी सरकार ने 18 वर्ष से ऊपर वालों की तरह ही अब पहले से चल रहे 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के टीकाकरण अभियान में बड़ा बदलाव किया है। सरकार के जारी आदेश के मुताबिक आगामी 10 मई से 45 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों का प्रथम डोज के टीकाकरण का कार्य ऑनलाइन पंजीकरण के बाद ही किया जाएगा। दरअसल अभी तक इसमें वॉक इन ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन किया जाता था, जो अगले आदेशों तक स्थगित कर दिया गया है।

Yogi govt new decision on vaccination of people aged above fourty five

आपको बता दें कि रजिस्ट्रेशन की अनिवार्यता सिर्फ पहली मई से शुरू हुए 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण अभियान में रखी गई थी, लेकिन अब 10 मई से 45 वर्ष से ऊपर के नागरिकों को प्रथम डोज का टीकाकरण ऑनलाइन पंजीकरण कराने के पश्चात ही होगा। वाक इन के माध्यम से ऑन द स्पॉट पंजीकरण की व्यवस्था प्रथम डोज के लिए 10 मई से अग्रिम आदेश तक के लिए स्थगित कर दी गई है।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने प्रदेश के सभी जिलों के जिलाधिकारी और मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। आदेश में कहा गया है कि सोमवार 10 मई से 45 वर्ष से ऊपर के समस्त नागरिकों को कोविड-19 के टीकाकरण की पहली डोज उनके द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के बाद ही लगेगी। वॉक इन के माध्यम से ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था प्रथम डोज के लिए 10 मई से अगले आदेशों तक के लिए स्थगित की जाती है। दूसरी डोज के टीकाकरण का काम पहले की ही तरह चलता रहेगा। आदेश में कहा गया है कि इस व्यवस्था का कड़ाई से शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।

सरकारी आंकड़ों की आगर बात करें तो अभी तक 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण प्रदेश के सात जिलों में चल रहा है। जिनमें लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ और बरेली शामिल हैं। इन जिलों में 18 वर्ष से अधिक उम्र के 68,536 लोगों को कोरोना टीके की पहली डोज लगाई जा चुकी है। वहीं प्रदेश में अब तक 45 वर्ष से अधिक उम्र के 1,06,65,499 लोगों को कोरोना टीके की पहली डोज लगा दी गई है। इनमें से 25,90,456 लोगों को टीके की दूसरी डोज भी लगा दी गई है। इस तरह अब तक प्रदेश में 45 साल से अधिक आयु के लोगों को टीके की कुल 1,32,55,955 डोज लगाई जा चुकी हैं।

कोविड महामारी के खिलाफ जारी जंग में 18 से 44 आयु वर्ग के लिए कोरोना टीके की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार सभी उपाय कर रही है। कोरोना टीकों की खरीद के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करने के अलावा सरकार ने दवा कंपनियों को टीके खरीदने के लिए 20 करोड़ रुपये बतौर एडवांस दिए हैं। प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों की संख्या 9।28 करोड़ है। इस आयु वर्ग के टीकाकरण के लिए सरकार ने कोवैक्सीन और कोविशील्ड टीके बनाने वाली कंपनियों को 50-50 लाख डोज के ऑर्डर दिए हैं। कंपनियों को बतौर एडवांस 20 करोड़ रुपये की धनराशि जारी की गई है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश मेडिकल सप्लाई कॉरपोरेशन ने चार करोड़ कोरोना टीकों की खरीद के लिए ग्लोबल टेंडर भी जारी किया है।

कोरोना महामारी से गायों को बचाने के लिए योगी सरकार की पहल, गौशालाओं को चिकित्सा उपकरणों से लैस करने के आदेशकोरोना महामारी से गायों को बचाने के लिए योगी सरकार की पहल, गौशालाओं को चिकित्सा उपकरणों से लैस करने के आदेश

English summary
Yogi govt new decision on vaccination of people aged above fourty five
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X