• search
keyboard_backspace

देशभक्ति संग जनसेवा की मिसाल बन रही छत्तीसगढ़ पुलिस की टाइगर वाहन सेवा

Google Oneindia News

रायपुर। इन दिनों छत्तीसगढ़ पुलिस की डायल 112 और टाइगर वाहन सेवा न सिर्फ अपराधियों को पकड़ने में बल्कि देशभक्ति संग जनसेवा के क्षेत्र में भी नित नई मिसाल कायम कर रही है। प्रसव पीड़ा से कराह रही गर्भवती महिला की सूचना मिलते ही तत्काल अस्पताल पहुंचाने लेकर निकली धरसीवां पुलिस की टाइगर वन वाहन सेवा में महिला ने स्वस्थ बालक को जन्म दिया।

tiger vehicle service of chattisgarh police becoming example of people service

जानकारी के मुताबिक सांकरा निको बाजार क्षेत्र निवासी एक तीस वर्षीय गर्भवती महिला को अचानक तेज प्रसव पीड़ा होने लगी स्‍वजनों ने संजीवनी वाहन डायल 108 व जननी के एक्सप्रेस 102 में सूचना दी उक्त इमरजेंसी वाहन कहीं अन्य स्थानों पर इमरजेंसी सेवा में व्यस्त थी। धरसीवां पुलिस के टाइगर वन को सूचना मिली सूचना मिलते ही टाइगर वन के कर्मी कपिल चंद्रवंशी, अशोक बंजारे तत्काल सांकरा पहुंचे ओर प्रसव पीड़ा से पीड़ित गर्भवती को पीछे बिठाया मितानिन भी तब तक पहुंच गई और टाइगर वाहन गर्भवती को लेकर सांकरा से रवाना हुआ, लेकिन प्रसव पीड़ा बढ़ने से मितानिन समझ गई और चलते वाहन में ही उन्होंने किसी तरह मात्र दो लोगो के बैठने की सीट पर ही गर्भवती की डिलीवरी की। महिला ने स्वस्थ्य बालक को जन्म दिया जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ्य इस तरह चलती टाइगर वन में बालक की किलकारियां गूंज उठी ।

अस्पताल ले जाकर किया भर्ती

धरसीवां पुलिस के चलते टाइगर वाहन में टाइगर की तरह ही स्वस्थ्य बालक के जन्म के उपरांत टाइगर वाहन सीधे धरसीवां सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र पहुचा जहां महिला और उसके बच्चे को एडमिट किया गया।

English summary
tiger vehicle service of chattisgarh police becoming example of people service
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X